डर्टी पॉलिटिक्स हुई हाइजेक,वोटर्स के मोबाईल पर भेजी जा रही डिजिटल पर्ची की लिंक

 Edited By: Renu Nandi

Published on 27 Nov 2018 04:17 PM, Updated On 27 Nov 2018 04:47 PM

जबलपुर। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव का शोर गुल थमने के बाद जहां प्रत्याशी बिना शोर शराबे के घर घर जाकर लोगो से संपर्क कर समर्थन मांग रहे है। तो वही दूसरी ओर चुनाव जीतने की जतन कर रहे प्रत्याशियों ने मतदान के पहले एक दूसरे के खिलाफ डर्टी पॉलिटिक्स भी शुरू कर दी है। जबलपुर में सियासत की बिसात पर एक दूसरे को मात देने में लगे उम्मीदवार प्रचार के साथ साथ विरोधियो को घेरने में लगे हैं। आखिरी घंटो में हर हथ कंडे अपना रहे है। कुछ इसी तरह की पोस्टर पॉलिटिक्स हो रही है..जबलपुर की पश्चिम विधान सभा में यहां चौथी बार चुनाव मैदान में किस्तम आजमा रहे बीजेपी नेता हरेंद्रजीत सिंह बब्बू अब अपने विरोधी उम्मीदवार और कांग्रेस नेता तरुण भानोट के खिलाफ पोस्टर वार शुरू कर दिया है। जिसके तहत हरेंद्रजीत सिंह बब्बू और उनके कार्यकर्ता पूरे इलाके में कांग्रेस प्रत्याशी तरुण भानोट के खिलाफ एक पर्चा बांट रहे है।

ये भी पढ़ें -17 राइस मिलर्स को पर्यावरण विभाग का नोटिस, उत्पादन बंद करने के निर्देश

बता दें कि बीजेपी उम्मीदवार हरेंद्रजीत सिंह बब्बू द्वारा बांटे जा रहे इस पर्चे में लिखा है कि तरुण भानोट कारनामो का वट वृक्ष है,अपराधियों से रिश्ता है,इतना ही नहीं तरुण भानोट रेत का काला कारोबार करता है,तरुण भानोट के खिलाफ पुलिस में एफआईआर दर्ज है। इसके साथ ही इस पर्चे लिखा है कि तरुण भानोट ने अपने चाचा चंद्रकुमार भानोट की राजनैतिक लुटिया डुबोने का काम किया है। चाचा भतीजे कांग्रेस से निष्कासित,वन्य प्राणियों के खाल की तस्करी,चंद्रकुमार भानोट के भतीजे की कार में मंडला की युवती की हत्या,बलात्कार के बाद युवती की हत्या कर दी गई थी।

ये भी पढ़ें -ऐसा मतदान केंद्र जिसकी सूची में एक भी वोटर नहीं

.वोटिंग के चंद घंटे पहले शुरू हुई इस डर्टी पॉलिटिक्स को लेकर बीजेपी प्रत्याशी हरेंद्रजीत सिंह का कहना है कि पर्चे उनके द्वारा नहीं बांटे गए है और रहा सवाल पर्चो में छपी बातों का तो सभी बातो में सच्चाई है जो बीते सालो अखबारों की सुर्खियाँ भी बन चुकी है। हरेंद्र जीत सिंह बब्बू की माने तो उल्टा तरुण भानोट से उनको खतरा है,इसलिए वह अपने घर बाहर भी नहीं निकल रहे है क्योंकि तरुण कहीं उनके ऊपर हमला न करवा दे।इसके साथ भी यह भी बात सामने आ रही है कि वोटर्स के मोबाईल पर डिजिटल पर्चों की लिंक भी भेजी जा रही है। जिसके चलते कलेक्टर छवि भारद्वाज ने कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है। साथ ही उन्होंने IBC24 के जरिए वोटर्स से भी अपील की है कि इस तरह आपत्तिजनक डिजिटल पर्चे मिलने पर आयोग से तुरंत शिकायत करें। 

Web Title : mp Assembly Elections 2018:

जरूर देखिये