चुनाव आचार संहिता लगने के बाद भी लाल आतंक की मौजुदगी का अहसास दिलाते नारे, प्रशासनिक दल बेखबर

Reported By: Jitendra Chaudhary, Edited By: Renu Nandi

Published on 14 Mar 2019 12:18 PM, Updated On 14 Mar 2019 12:18 PM

किरंदुल। एक तरफ चुनाव आचार सहिंता की घोषणा हो चुकि है तो दूसरी तरफ ऐसी भी जगह है जहां अब भी लाल आतंक का साया है। बचेली में स्थिति ये है कि विधानसभा चुनावों के दौरान जारी नक्सली फरमान आज भी लोगो को डरा रहा है। बचेली के वार्ड क्रमांक 17 रेल्वे कॉलोनी इलाके में बने रेलवे क्वार्टर के दिवारो मे महीनो पहले लिखे नक्सली चुनाव बहिस्कार के नारे को अब तक मिटाया नही जा सका है। जिससे आस पास के लोगों को आज भी लाल आतंक की मौजुदगी का अहसास हो रहा है।


ये भी पढ़ें -सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत को परम विशिष्ट सेवा पदक के 
दरअसल विधानसभा चुनाव के दौरान अक्टुबर माह मे रेल्वे इलाके के घरो और वाहनो मे नक्सलियो ने चुनाव का बहिस्कार करने की अपिल लाल रंग से लिख दी थी और कुछ दिनो बाद ही आकाशनगर जाने के मार्ग मे बडा ब्लास्ट कर बस को उड़ा दिया था। जिसके चलते लोगो मे मतदान को लेकर डर बैठ् गया था । प्रशासनिक द्ल ने पुलिस की मदद से मुख्य मार्ग के आसपास के दिवारो पर लिखे नक्सली फरमान को मिटा दिया पर अंदरुनी मोहल्लो की दिवारो पर अब भी लाल आतंक के निशान मौजुद रहकर लोगो को डरा रहे है । स्थानिय लोगो और जनप्रतिनिधियो का विगत विधान सभा चुनाव मे नक्सली फरमान के चलते मतदान प्रतिशत मे कमी आई थी। कही इस बार भी दिवारो पर लिखे नक्सली फर्मान का असर ना हो । इधर पुलिस अब कार्यवाही की बात कह रही है ।

Web Title : naksali messages for election

जरूर देखिये