नर्मदे संसद की शुरुआत, कम्प्यूटर बाबा बोले- संतो ने बनाई थी बीजेपी सरकार, संत ही गिराएंगे

 Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 23 Nov 2018 03:54 PM, Updated On 23 Nov 2018 03:54 PM

जबलपुर। नर्मदा के किनारे ग्वारीघाट में साधु-संतों की नर्मदे संसद की शुरुआत शुक्रवार को हुई। कम्प्यूटर बाबा और आचार्य प्रमोद कृष्णम सहित कई संतो ने दीप प्रज्जवलित कर संसद की शुरुआत की। इस नर्मदे संसद में देशभर से हजारों की संख्या में साधु-संत शामिल हुए हैं।

नर्मदे संसद में आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा कि केंद्र सरकार बात-बात पर कानून बनाती है लेकिन देश में गौ रक्षा का कानून नहीं बना सकी। गंगा सफाई, धारा 370 और कॉमन सिविल कोर्ट की बात करते थे, लेकिन सारे वादे वादे ही रह गए। यदि हमारी चले तो कंप्यूटर बाबा को इस देश का प्रधानमंत्री बना दें।

वहीं नर्मदे संसद में मन की बात में कम्प्यूटर बाबा ने कहा कि 15 साल हो गए, इन्ही संतो ने मप्र में बीजेपी की सरकार बनाई थी। अब यही संत बीजेपी की सरकार गिराएंगे। उन्होंने कहा, एक संत बार-बार कह रहा था शिवराज को माफ़ कर दो, तो मैंने कहा पाप करें शिवराज और कैसे माफ करें महाराज।

यह भी पढ़ें : शिवसेना ने फिर साधा निशाना, कहा- राम मंदिर बनाने अध्यादेश लाए और तारीख की घोषणा करे बीजेपी 

स्वामी नवीनानंद ने कहा कि नर्मदे संसद के लिए जबलपुर में कदम न रखने देंगे, ऐसी धमकी मुझे और कम्प्यूटर बाबा को दी गई थी। उसके बाद भी हमने जबलपुर आकर दिखाया है। आंख खोलकर देख लें कि कितने संत आए हैं। देखना ऐसी धर्म विरोधी सरकार को उखाड़ फेकेंगे।

Web Title : Narmade sansad started in Jabalpur

जरूर देखिये