साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के नामांकन के दौरान NCP कार्यकर्ताओं ने दिखाए काले झंडे, पुलिस ने खदेड़ा

 Edited By: Vivek Mishra

Published on 23 Apr 2019 02:37 PM, Updated On 23 Apr 2019 03:23 PM

भोपाल। राजधानी से बीजेपी प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के नामांकन के दौरान काले झंडे दिखाने आए लोगों को पुलिस ने खदेड़ दिया है। दरअसल हेंमत करकरे पर दिए बयान के चलते लोगों में नाराजगी थी, जिसके चलते कुछ लोग काले झंडे दिखाने पहुंचे थे।

ये भी पढ़ें: शिवराज ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- साध्वी का नाम सुनते ही इनके पैरों तले जमीन 

NCP के प्रदेश अध्यक्ष राजू भटनाकर ने साध्वी प्रज्ञा सिंह को काला झंडा दिखाया, जिसके बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने राजू भटनाकर की पिटाई कर दी, वहीं NCP के सदस्यों ने दिग्विजय सिंह को अच्छा आदमी बताया हैं।

ये भी पढ़ें: 15 राज्यों की 117 सीटों पर मतदान जारी, यूपी में एक बजे तक 35.49 फीसदी वोटिंग, बिहार में 

वहीं नामांकन जमा करने से पहले साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने खुद की तुलना केंद्रीय मंत्री उमा भारती से की है। भोपाल के भवानी चैक में हुई सभा को संबोधित करते हुए साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने दिग्विजय सिंह का नाम लिए बगैर कहा कि 2003 में एक साध्वी ने ऐसा पराजित किया था कि 16 साल मुंह नहीं उठा पाएं, और इस बार फिर एक और साध्वी आ गई है।

 

 

Web Title : NCP workers display black flags, police picks up during Sadhvi Pragya Thakur's nomination

जरूर देखिये