NIA करेगी दिवंगत विधायक भीमा मंडावी की हत्या की जांच, 14 धाराओं के तहत केस दर्ज

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 21 May 2019 11:06 PM, Updated On 21 May 2019 11:06 PM

दंतेवाड़ा: दिवंगत विधायक भीमा मंडावी की हत्या की जांच का जिम्मा एनआईए को सौंपा गया है। मामले में एनआईए ने 14 धाराओं के तहत अपराध दर्ज किया है। बता दें कि वर्ष 2018 के विधानसभा चुनावों में जब छत्तीसगढ़ में भाजपा 15 सीटों पर सिमटी और बस्तर से उसका सूपड़ा साफ हुआ तब मंडावी ही थे जो एकमात्र सीट दंतेवाड़ा को जीतकर आए।

Read More: लवासा के सुझाव पर निर्वाचन आयोग की मुहर, रिपोर्ट में दर्ज किया जाएगा असहमति का मत, लेकिन नहीं होगा सार्वजनिक

गौरतलब है कि 9 अप्रैल शाम लगभग 4 बजे भीमा मंडावी किरंदुल में चुनावी सभा को संबोधित कर लौट रहे थे। इसी दौरान उनका काफिल नक्सलियों के बिछाए आईईडी की चपेट में आ गया। हादसे में विधायक भीमा मंडावी की मौत हो गई और सुरक्षा में तैनात 4 जवान शहीद हो गए। बता दें धमाका इतना जबर्दस्त था कि रोड पर 7 फीट गढ्ढे हो गए और एंटी लैंडमाइन के परखच्चे उड़ गए।

Read More: बीजेपी को मतगणना में गड़बड़ी की आशंका तो धनेंद्र साहू को ईवीएम में, जानिए पूरी बात

मामले में एनआईए ने आईपीसी की धारा 147, 148, 149, 302, 396, 307 और 120 (बी) के तहत और भारतीय शस्त्र अधिनियम की धारा 25 और 27 के तहत मामला दर्ज किया है।

Web Title : NIA will investigate death case of Former dantewada MLA Bhima mandavi