शहीद गुंडाधुर की प्रतिमा से असामाजिक तत्वों ने की छेड़खानी, आदिवासी समाज में नाराजगी

 Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 20 Jun 2019 07:35 PM, Updated On 20 Jun 2019 07:35 PM

जगदलपुर। शहर के गीदम रोड इलाके में शहीद गुंडाधुर की लगाई गई प्रतिमा से कुछ असामाजिक तत्वों ने छेड़खानी की है। गुंडाधुर की प्रतिमा में लगा तीर-धनुष का हिस्सा अज्ञात लोगों ने तोड़ दिया है। इस मामले को लेकर आदिवासी समाज ने नाराजगी जताई है।

यह भी पढ़ें : सीएम भूपेश बघेल ने की राहुल गांधी से की मुलाकात, पुनिया ने कहा- वो अध्यक्ष हैं और रहेंगे 

आदिवासी समाज ने जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग प्रशासन से की है। उन्होंने आरोपियों की गिरफ्तारी जल्द न होने पर आंदोलन की चेतावनी भी दी है। बता दें कि गीदम मार्ग पर जियाडेरा के सामने उद्यान में उद्यान बनाकर यहां शहीद गुण्डाधुर की कांस्य प्रतिमा की स्थापना नौ जून 2012 को की गई थी।

यह भी पढ़ें : विधानसभा के मानसून सत्र से पहले अहम बैठक 

इसका अनावरण तत्कालीन मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने किया था। पार्क की साफ- सफाई धुरवा समाज ही करता है। बता दें कि गुंडाधुर को भूमकाल आंदोलन का जननायक माना जाता है और वे धुरवा समाज के प्रमुख आदिवासी नेता भी रहे हैं। आदिवासी समाज में 1910 की क्रांति का महत्वपूर्ण स्थान है।

Web Title : non social elements fragmented martyr Gundadhur statue

जरूर देखिये