मुस्लिम कैदी की पीठ पर लिख दिया "ओम", जांच समिति गठित

 Edited By: Renu Nandi

Published on 20 Apr 2019 11:15 AM, Updated On 20 Apr 2019 11:15 AM

दिल्ली। दिल्ली की तिहाड़ जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे कैदी साबिर ने गुरुवार को कड़कड़डूमा कोर्ट में पेशी के दौरान जज को बताई की जेल नंबर 4 के सुपरिटेंडेंट राजेश चौहान ने इसकी पीठ पर ऊं का निशान गोद दिया जबकि वह मुस्लिम है।

कैदी की बात सुनकर जब जज को यकीन  नहीं हुआ तो उक्त कैदी साबिर ने अपनी पीठ दिखाकर इस बात का प्रमाण भी दिया। जिसके बाद दिल्ली के तिहाड़ जेल में मुस्लिम कैदी की पीठ पर "ओम" लिखने वाले एआईजी (जेल) पीआरओ, जेल अधीक्षक के खिलाफ एक जांच समिति गठित की गई है। जो अपनी रिपोर्ट कोर्ट के सामने सोमवार को प्रस्तुत करेगी। उसके बाद ही कोर्ट कोई कार्रवाई करेगी ।फिलहाल कैदी को जेल नंबर 4 से 1 में स्थानांतरित कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें -मां के साथ बद्तमीज कर रहे बदमाशों को रोकने पर मिली ये सजा, स्कूली छात्रा को एसिड 

ज्ञात हो कि आरोपी युवक की ओर से वकील जगमोहन ने कड़कड़डूमा कोर्ट में शिकायत दर्ज कराई है. कोर्ट में जज ने भी पीड़ित युवक की पीठ पर बने निशान को देखा है. कोर्ट ने इस संबंध में तिहाड़ जेल प्रशासन को नोटिस भी जारी किया लेकिन इसके बाद भी प्रशासन की ओर कोई कोर्ट में मौजूद नहीं हुआ. इस मामले में अगली सुनावाई सोमवार को है।

Web Title : "Om" tattooed on the back of a Muslim prisoner at Delhi's Tihar jail,

जरूर देखिये