'चेंजिंग छत्तीसगढ़ अंडर न्यू लीडरशिप' पर आयोजित कार्यक्रम, सीएम भूपेश बघेल ने कही ये बात

 Edited By: Vivek Mishra

Published on 19 Aug 2019 07:37 AM, Updated On 19 Aug 2019 07:37 AM

रायपुर। दिल्ली दौरे पर गए छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने रविवार को सोसायटी ऑफ पॉलिसी स्टडीज की ओर से 'चेंजिंग छत्तीसगढ़ अंडर न्यू लीडरशिप' पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने प्रदेश में चल रही योजनाओं के साथ ही शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार को लेकर बात की।

ये भी पढ़ें: 'शॉटगन' के बदले 'सुर', मोदी की तारीफ के बाद मिलने की इच्छा जताई, भाजपा में लौटेगें 

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि सुकमा के धुर नक्सल इलाके में 13 सालों से बंद पड़े स्कूलों को सरकार ने फिर शुरू कराया है और स्थानीय युवकों को ही पढ़ाने का जिम्मा दिया है। ताकि बच्चे पढ़ लिखकर आगे जा सकें।

ये भी पढ़ें: गृहमंत्री ने कहा बच्चे का अपहरण के बाद हत्या दुर्भाग्यपूर्ण, लापरवाह अधिकारियों पर होगी कार्रवाई

वहीं रोजगार को लेकर मुख्यमंत्री ने पुरानी सरकारों के कामों पर निराशा जताई उन्होंने कहा की दंतेवाड़ा में NMDC खदान और कोरबा में NTPC प्लांट होने के बाद भी स्थानीय युवकों को रोजगार नहीं मिला। इस दौरान कार्यक्रम में मौजूद कई लोगों ने भी अपने विचार रखे।

Web Title : On 'Changing Chhattisgarh Under New Leadership' program, CM Bhupesh Baghel said this

जरूर देखिये