प्रज्ञा सिंह पर देशद्रोह का अपराध दर्ज करने की मांग पर वित्त मंत्री बैठे धरने पर, कहा- साध्वी के बयान से मेरी राष्ट्रीय भावनाएं आहत हुई

Reported By: Vijendra Pandey, Edited By: Rupesh Sahu

Published on 20 Apr 2019 05:57 PM, Updated On 20 Apr 2019 05:57 PM

जबलपुर। मध्यप्रदेश के वित्तमंत्री तरुण भनोत ने भोपाल से बीजेपी की लोकसभा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह पर देशद्रोह का अपराध दर्ज करने की मांग की है। तरुण भनोत का कहना है कि शहीद हेमंत करकरे पर दिया गया प्रज्ञा सिंह का बयान ना सिर्फ शहीद का अपमान है बल्कि ये देशद्रोह के दायरे में भी आता है। भनोत के मुताबिक प्रज्ञा सिंह पर आईपीसी की धारा 124 ए के तहत देशद्रोह का मामला दर्ज किया जाना चाहिए। इस मुद्दे पर एफआईआर करवाने के लिए तरुण भनोत शनिवार को जबलपुर के गोरखपुर थाने पहुंच गए। इस दौरान वित्तमंत्री तरुण भनोत ने आम आदमी की हैसियत से पुलिस थाने में प्रज्ञा सिंह के खिलाफ अपनी एफआईआर दर्ज करने की मांग की।

ये भी पढ़ें- साध्वी को नहीं मिली रोड शो की अनुमति, कांग्रेस विधायक ने दिग्विजय स...

पुलिस अधिकारियों ने जब एफआईआर की बजाए तरुण भनोत से शिकायत लेनी चाही तो तरुण और उनसे साथ आए कांग्रेस कार्यकर्ता एफआईआर की मांग पर अड़ गए। तरुण भनोत ने कहा कि प्रज्ञा सिंह के बयान से उनकी राष्ट्रीय भावनाएं आहत हुई हैं लिहाजा पुलिस पहले एफआईआर दर्ज करे फिर मामले की जांच करे। इस मामले को लेकर पुलिस अधिकारियों और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच कहासुनी भी हुई । तरुण भानोत अपने समर्थकों सहित थाने में ही धरने पर बैठ गए। हालांकि भानोत ने इसे धरने की बजाए शांतिपूर्वक सत्याग्रह बताया।

ये भी पढ़ें- कमलनाथ ने प्रचार के दौरान शिवराज पर साधा निशाना, कहा -उन्होंने हमें आत्महत्या, बलात्कार

विवाद बढ़ने पर पुलिस के आला अधिकारी गोरखपुर थाने पहुंचे जहां उन्होंने मामले की शिकायत मिलने पर वैधानिक कार्रवाई का भरोसा दिलाया। इस आश्वासन पर तरुण भनोत ने पुलिस थाने में अपनी लिखित शिकायत दी और प्रज्ञा सिंह पर देशद्रोह की धाराओं के तरह कार्यवाई करने की मांग दोहराई। इधर पुलिस अधिकारियों ने कहा कि वो मामले पर भोपाल पुलिस और निर्वाचन आयोग से भी जानकारी लेंगे जिसके बाद तरुण भनोत की शिकायत पर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

Web Title : On the demand of lodging FIR for Pragya Singh the Finance Minister is sitting on Police station Said- sadhvi's statement hurt my national sentiments

जरूर देखिये