रमजान में चुनाव आयोजित करने पर विपक्षी दलों ने जताई आपत्ति, ओवैसी ने कहा बढ़ेगी वोटिंग

 Edited By: Rupesh Sahu

Published on 11 Mar 2019 05:14 PM, Updated On 11 Mar 2019 05:27 PM

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान हो गया है। 7 चरणों में होने वाले आम चुनाव के दौरान रमजान का महीना भी शुरू होगा। विपक्ष के कुछ नेताओं और मुस्लिम धर्म के कुछ धर्मावलंबियों ने चुनाव की तारीखों पर आपत्ति जताई है। आप नेता संजय सिंह और विधायक अमानतुल्लाह खान ने कहा कि रमजान में मुस्लिम वोट कम होगा और इसका फायदा भाजपा को मिलेगा। टीएमसी नेता ने भी रमजान में मतदान का विरोध किया।इससे पहले कुछ राजनीतिक पार्टियों और मुस्लिम धर्मगुरुओं ने चुनाव आयोग और सरकार की मंशा पर सवाल खड़े किए।

ये भी पढ़ें- शरद पवार ने किया ऐलान- नहीं लड़ेंगे लोकसभा चुनाव, जानिए पूरी बात

ट्वीट कर जताया विरोध

आप सांसद संजय सिंह ने ट्वीट किया, "चुनाव आयोग मतदान में हिस्सा लेने की अपील के नाम पर करोड़ों खर्च कर रहा है, लेकिन दूसरी तरफ 3 फेज का चुनाव पवित्र रमजान के महीने में रख कर मुस्लिम मतदाताओं की भागीदारी कम करने की योजना बना दी है। सभी धर्मों के त्योहारों का ध्यान रखो मुख्य चुनाव आयुक्त साहेब।''


अमानतुल्लाह ने ट्वीट किया, "12 मई का दिन होगा, दिल्ली में रमजान होगा। मुसलमान वोट कम करेगा, इसका सीधा फायदा बीजेपी को होगा।''
चुनाव आयोग मतदान में हिस्सा लेने की अपील के नाम पर करोड़ों खर्च कर रहा है,लेकिन दूसरी तरफ 3 फेज का चुनाव पवित्र रमजान के महीने में रख कर मुस्लिम मतदाताओं की भागीदारी कम करने की योजना बना दी है सभी धर्मों के त्योहारों का ध्यान रखो CEC साहेब।

ये भी पढ़ें- बीजेपी के दो विधायकों के निर्वाचन के विरोध में हाईकोर्ट में...

चुनाव आयोग,असदुद्दीन ओवैसी ने किया बचाव

सवालों के बीच चुनाव आयोग ने कहा है कि शुक्रवार और मुख्य त्योहारों के दिन वोटिंग नहीं रखी गई है। ओवैसी ने कहा, यह पूरा विवाद गैर-जरूरी है। उन्होंने कहा, मैं राजनीतिक पार्टियों से अनुरोध करता हूं कि मुस्लिमों समुदाय और रमजान का इस्तेमाल न करें, भले ही आपकी कोई मजबूरी हो। मुस्लिम रमजान में रोजा जरूर रखेंगे और वे सामान्य जीवन जीते हैं, वे ऑफिस जाते हैं। यहां की गरीब से गरीब भी रमजान में रोजा रखता है। मेरा मानना है कि रमजान के पवित्र महीने में मतदान प्रतिशत बढ़ेगा।


ये भी पढ़ें- मतदाता जागरूकता के लिए IBC24 को पुरस्कार, सीईओ सुब्रत साहू न...

बीजेपी नेताओं ने बताई गैर जरूरी मांग
बीजेपी नेता और उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि चुनाव आयोग एक स्वतंत्र और संवैधानिक संस्था है। यदि किसी को तारीखों पर आपत्ति है तो वह चुनाव आयोग में अपनी शिकायत दर्ज करा सकता है। उन्होंने कहा, 'रही बात रमजान में वोटिंग की तो आयोग ने मतदान के लिए 8 घंटे का समय रखा है। इस बीच कभी भी जाकर मतदान किया जा सकता है। विपक्षी दल चुनाव में हार के डर से अभी से बहाने ढूंढने लगे हैं।'
भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि हिंदू भाई भी व्रत करते हैं, वे भी तो मतदान करते हैं। रोजा रखने वाले कई लोग ऑफिस जाते हैं, अपना काम करते हैं, यह पहला मौका नहीं है कि जब रमजान में मतदान हो रहा है। इस पर सवाल नहीं उठाने चाहिए।

 

 

 

Web Title : Opposition to oppose elections in Ramadan Owaisi said voting will increase

जरूर देखिये