100 रूपए के पेट्रोल में 100 एमएल कम निकला पेट्रोल, तो कलेक्टर ने सील किया पेट्रोल पंप...देखिए

Reported By: Swadesh Bhardawaj, Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 10 Jul 2019 07:36 AM, Updated On 10 Jul 2019 07:36 AM

श्योपुर। शहर के पाली रोड स्थित पेट्रोल पंप पर मापतौल में चोरी पकड़े जाने के मामले में कलेक्टर बसंत कुर्रे ने लाइसेंस निलंबित कर दिया। वहीं शाम को खाद्य आपूर्ति और नापतौल विभाग की संयुक्त टीम भेजकर पंप को सील्ड भी कर दिया गया। वहीं पंप संचालक ने प्रशासन की इस कार्यवाही को गलत बताते हुए कोर्ट जाने की बात कही है।

read more : चीफ सेक्रेटरी सुनील कुमार कुजूर की सेवा अवधि बढ़ाने छत्तीसगढ़ सरकार ने केंद्र सरकार को लिखा पत्र

बता दें कि प्रशासन की टीम ने शहर के दोनों पंपों पर निरीक्षण किया था, जिसमें शंकरदास-राजबहादुर के इंडियन ऑयल के पेट्रोल पंप पर मापतौल में चोरी पकड़ी गई। हालांकि प्रशासन की टीम अपना पंचनामा बनाकर लौट आई थी, लेकिन मापतौल की चोरी मिलने के बाद भी कार्यवाही नहीं होने से प्रशासन पर सवाल उठ रहे थे।

read more : CWC 2019: पहले सेमीफाइनल में बारिश बनी बाधा, रिजर्व डे पर आपस में भिड़ेंगे भारत-न्यूजीलैंड

जिसके बाद कलेक्टर बसन्त कुर्रे ने पहले तो पेट्रोल पंप का लाइसेंस निलंबित किया, वहीं अमले को पंप सील्ड करने के निर्देश दिए। कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी बृजपाल सिंह गुर्जर और लवली गोयल के साथ नापतौल निरीक्षक सतीश शर्मा की टीम ने मौके पर पहुंचकर सील्ड कर दिया। इस दौरान कार्यवाही करने वाली टीम ने डीजल-पेट्रोल का स्टॉक भी सील्ड करते हुए पंचनामा बनाया। कार्यवाही के दौरान पाली रोड पर पंप के सामने भारी भीड़ भी जुट गई।

read more : सीबीआई की छापेमार कार्रवाई, छत्तीसगढ़—मध्यप्रदेश सहित कई 19 राज्यों में कार्रवाई जारी


जानकारी के अनुसार 100 रुपए के पेट्रोल में 100 एमएल कम पेट्रोल मिला था। वहीं डीजल में भी 500 रुपए का डीजल भरवाने पर 100 एमएल कम निकलता है। इसके साथ ही पेट्रोल-डीजल अंडर स्टॉक मिला और अन्य अनियमितताएं भी मिली। जिसका निरीक्षण प्रतिवेदन टीम ने कलेक्टर को दिया और अब ये सील्ड करने की कार्यवाही हुई।

 

Web Title : Petrol of 100 rupees in petrol went down 100 ml , then the collector sealed the petrol pump ... View