पीएम मोदी ने किया नेशनल वॉर मेमोरियल का उद्घाटन, कहा- नया भारत नई रीति-नई नीति से बढ़ रहा है आगे

 Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 25 Feb 2019 07:59 PM, Updated On 25 Feb 2019 08:44 PM

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र ने सोमवार को इंडिया गेट स्थित राष्ट्रीय युद्ध स्मारक (नेशनल वार मेमोरियल) का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने भारतीय सेना की तारीफ की। कार्यक्रम में पूर्व सैनिकों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आप सभी भूतपूर्व नहीं, अभूतपूर्व हैं क्योंकि आप जैसे लाखों सैनिकों के शौर्य और समर्पण के कारण ही आज हमारी सेना की गिनती दुनिया की सबसे ताकतवर सेनाओं में होती है।'

उन्होंने कहा कि इस ऐतिहासिक स्थल से, मैं पुलवामा में शहीद हुए वीर सैनकों और भारत की रक्षा में अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले हर बलिदानी को नमन करता हूं। नया भारत आज नई रीति और नई नीति से आगे बढ़ रहा है, मजबूती के साथ विश्व पटल पर अपनी भूमिका तय कर रहा है, इसमें एक बड़ा योगदान आपके शौर्य और समर्पण का है। देश का दशकों लंबा इतंज़ार खत्म होने वाला है। आजादी के सात दशक बाद मां भारती के लिए बलिदान देने वालों की याद में निर्मित राष्ट्रीय स्मारक, उन्हें समर्पित किया जाने वाला है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय समर स्मारक की मांग कई दशकों से निरंतर हो रही थी।बीते दशकों में कुछ प्रयास भी हुए, लेकिन कुछ ठोस हो नहीं पाया। आपके आशीर्वाद से 2014 में हमने राष्ट्रीय समर स्मारक बनाने की प्रक्रिया शुरु की और आज तय समय से पहले ही इसका लोकार्पण होने वाला है। जब देश का सैनिक सशक्त होता है तो सेना भी सशक्त होती है। देश की सेना का मनोबल, देश की सुरक्षा तय करता है। इसलिए हमारे सैनिक, हमारे फौजी भाई हमारे सभी प्रयासों में हमारी अप्रोच का केंद्रबिंदु हैं।

मोदी ने कहा कि ये हम सभी के लिए गौरव की बात है कि आज हमारे प्रयासों से दुनिया के बड़े-बड़े देश हमारे साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलना चाहते है। देश की सुरक्षा में समाज के सभी वर्गों की भागीदारी आवश्यक है। इसी सोच के साथ, पहली बार महिलाओं को फाइटर पायलट बनने का अवसर मिला है। सेना में भी बेटियों की भागीदारी को और मजबूत करने के लिए भी निरंतर फैसले लिए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें : नगर निगम की सामान्य सभा ने पारित किया संपत्ति कर पिछली दर से लेने का प्रस्ताव 

प्रधानमंत्री ने कहा कि साल 2009 में सेना ने 1 लाख 86 हजार बुलेट प्रूफ जैकेट्स की मांग की थी, लेकिन सेना के लिए बुलेट प्रूफ जैकेट्स नहीं खरीदी गईं। हमारी सरकार ने बीते साढ़े चार वर्षों में 2 लाख 30 हजार से ज्यादा बुलेट प्रूफ जैकेट्स खरीदी हैं। बोफोर्स से लेकर हेलीकॉप्टर तक सबकी जांच का एक ही परिवार तक पहुंचना, बहुत कुछ कहता है। अब यही लोग पूरी ताकत लगा रहे हैं कि भारत में राफेल विमान न आ पाए। पर अगले कुछ महीनों में जब देश का पहला राफेल आसमान में उड़ान भरेगा तो इनकी सारी साजिशों को ध्वस्त कर देगा।

Web Title : PM Modi inaugurated National War Memorial said New India is moving forward with a new method new policy

जरूर देखिये