राज्यसभा में पीएम मोदी ने कहा- हमारी आलोचना स्वीकार्य, लेकिन मतदाताओं की नहीं

 Edited By: Vivek Mishra

Published on 26 Jun 2019 02:49 PM, Updated On 26 Jun 2019 02:30 PM

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री ने राज्यसभा में बोलते हुए कहा कि उन्हें देश के कोने-कोने में जाने का मौका मिला। उन्होंने कहा कि हमारे देश का किसान बिकाऊ नहीं है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्यसभा में बुधवार को कहा कि इस देश में हमारी आलोचना स्वीकार्य है, लेकिन मतदाताओँ का इस प्रकार का अपमान बहुत तकलीफ देता है। पीएम मोदी ने कहा कि 'हम दूसरे की लकीर छोटी करने में विश्वास नहीं करते, हम अपनी लकीर लंबी करने के लिए जिंदगी खपा देते हैं।

ये भी पढ़ें: गृहमंत्री ने कहा- बीजेपी विधायक पर होगी सख्त कार्रवाई, भाजपा का चाल, चरित्र और चेहरा उजागर

बुधवार को पीएम मोदी ने राज्यसभा में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण पर जवाब देते हुए कहा कि देश ने स्थिरता पर बल दिया है। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि क्या कांग्रेस हार गई है तो क्या देश हार गया है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की भाषा बोलकर मतदाताओं को चोट पहुंचाई गई है।

ये भी पढ़ें: ये आदेश नहीं मानने पर हाईकोर्ट ने निर्वाचन आयोग के सचिव को भेजा नोटिस, 4 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिना किसी का नाम लेते हुए कहा कि 'आपकी ऊंचाई आपको मुबारक हो, और आप इतने ऊंचे चले गए हैं कि जमीन नहीं दिख रही है। आप इतने ऊंचे चले गए हैं कि आप जड़ों से उखड़ गए हैं, और आप इतने ऊंचे चले गए हैं कि आपको जमीन के लोग तुच्छ लगने लगे हैं'।

 

Web Title : PM Modi said in the Rajya Sabha - Our criticism is acceptable, but not voters.

जरूर देखिये