करणी सेना प्रमुख रूबी सिंह ऐसे बना सूदखोर, 5 लाख के वसूलता था 1 करोड़, पुलिस ने दबोचा

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 20 Apr 2019 07:33 PM, Updated On 20 Apr 2019 07:33 PM

रायपुर: कोतवाली पुलिस ने ब्लैकमेल कर, दबंगई, और अवैध वसूलीकर लग्जरी लाइफ जीने वाले करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह तोमर उर्फ रूबी सहित गिरोह के तीन अन्य सदस्यों को गुरुवार को धर दबोचा है। बताया जा रहा है कि वीरेंद्र सिंह तोमर लोगों को मदद के नाम पर ब्याज पर पैसे देता था और फिर ब्याज के नाम पर दादागिरी कर करोड़ों रूपए वसूलता ​था। वहीं, लोगों ने यह भी आरोप लगाया है ​कि पहले दोस्ती करता है ​और फिर वीडियो बनाकर उनसे पैसे वसूलता है। पुलिस ने वीरेंद्र और उसके गुर्गो को भाठागांव से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने सभी अरोपियों को पैदल जुलूस निकालकर थाने तक लाई।

बताया जा रहा है कि वीरेंद्र और उसका भाई रोहित तोमर लंबे समय से लोगों से ब्याज के नाम पर पैसे वसूल रहे हैं, लेकिन बुधवार को सराफा कारोबारी जय बदलानी ने सिटी कोतवाली थाने में रूबी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाया। मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने रूबी सहित 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। वहीं, पुलिस को देखते ही उसका भाई रोहित तोमर मौके से फरार हो गया। पीड़ित रोहित ने रोहित तोमर समेत पांच के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। वीरेंद्र और उसका भाई रोहित तोमर के खिलाफ उगाही और ब्लैकमेलिंग के दर्जनों अपराध राजधानी के अलग—अलग थानों में दर्ज है। पुलिस ने मौके से लगभग 100 चेक भी बरामद किए है, जिसके आधार पर वह पैसे देता था।

हलवाई लाइन निवासी सराफा कारोबारी जय कुमार बदलानी ने आरोप लगाया है कि पैसे की आवश्यकता होने पर पांच लाख रूपए रोहित सिंह तोमर से ब्याज पर लिया। इसके एवज में वह रोज पांच हजार रूपए ब्याज लेता था। 5 लाख के बदले पीड़ित अब तक 1 करोड़ रूपए दे चुका था, इसके बाद भी मूल अभी बाकी था। इस दौरान जय से दोस्ती कर उसे मौज मस्ती करने का झांसा देकर रोहित व उसके साथियों ने ब्लैकमेल करने वीडियो बना लिया था और पैसे मांगने लगे। जय ने पैसा न होने की बात कही तो खुद ही उसे ऊंचे ब्याज दर में पैसा देकर खुद रख लिए और ब्याज वसूलने लगे।

जानिए कौन है वीरेंद्र सिंह उर्फ रूबी
एडिशनल एसपी सिटी प्रफुल्ल ठाकुर ने गुरूवार शाम जानकारी देते हुए बताया कि करणी सेना प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह तोमर कुछ साल पहले शराब भट्ठी में चखना का दुकान लगाता था। इसके कुछ समय बाद वीरेंद्र अपनी पत्नी के नाम पर लाइसेंस बनवाकर ब्याज का धंधा में उतर आया। वीरेंद्र सिंह लोगों को 2 से 20 फीसदी ब्याज पर पैसे देता था और फिर ब्याज के नाम पर जबरन पैसे वसूलता था। पैसे नहीं देने पर अपने गुर्गों को घर भेजकर दादागिरी कर पैसे वसूलता था।

Read More: राकेश सिंहा के बयान पर वित्त मंत्री तरुण भानोत का पलटवार, कहा- बीजेपी नहीं करती संविधान और शहीदों का सम्मान

ब्याज के पैसे से जीता था लग्जरी लाइफ
एएसपी ने बताया कि वीरेंद्र सिंह और उसके भाई रोहित सिंह की लाइफ स्टाइल कुछ सालों के भीतर तेजी से बदल गई थी। भाठागांव में करोड़ों की लागत से आलीशान बंगला, महंगी कारों में घूमने, शरीर पर लाखों के सोने के जेवर पहनने का शौक वह लोगों से ब्याज के नाम पर पैसे ऐंठ कर पूरा करता था। उनके आय के स्रोतों की पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। यहीं नहीं जिलाबदर की कार्रवाई का प्रस्ताव भी भेजा है।

Read More: डॉ पुनीत गुप्ता के खिलाफ एक और शिकायत, डॉ राकेश गुप्ता ने PhD की डिग्री पर उठाए सवाल

अपने गुर्गों को भेजकर करता था वसूली
तोमर बंधुओं से परेशान जय ब्याज नहीं दे पा रहा था तब उसे धमकाने के लिए बाउंसर दुकान पर भेजते थे। ब्याज से छुटकारा पाने जय ने अपने और पत्नी सारे जेवर देकर कहा की मुझे मूलधन और ब्याज से छुटकारा दिला दो फिर भी सूदखोर की लालच खत्म नहीं हुई। वे दुकान पर आकर उसके पिता को यह कहकर धमकाने लगे कि अगर दो करोड़ पांच लाख नहीं दिए तो जीना हराम कर दूंगा किसी भी समय बेटे को मरवाकर कही भी फेंक दूंगा। इससे पूरा परिवार दहशत में जी रहा था। बडे भाई कमल कुमार बदलानी ने रोहित तोमर से फोन पर बात की तो उसने बारह लाख तत्काल देने को कहा बाकि बाद में हिसाब करके बताने को कहा। कमल ने हिसाब करने की बात कहीं तो वह धमकाने लगा।

Read More: सामने आया भाजपा के मंत्री का विवादित बयान, इस जानवर से की राहुल गांधी की तुलना

ये चढ़े पुलिस के हत्थे
रूबी सिंह तोमर, कमल कुर्रे, विनोद चैरसिया, राज आर्यन को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, जबकि रोहित सिंह तोमर भाग निकलने में सफल रहा।

दीजिए जवाब और जीतिए इनाम, आप सब से अनुरोध है इसे शेयर जरूर करें

Question 1 - देश का अगला प्रधानमंत्री कौन होगा ?

Question 2 - देश में इस बार किसकी सरकार बनेगी ?

Question 3 - देश में किस पार्टी को मिलेगी बहुमत ?

Question 4 - चौकीदार का सियासी जुमला किसे फायदा पहुंचाएगा ?

Question 5 - छत्तीसगढ़ में सिटिंग सांसदों को बदलना बीजेपी के लिए फायदेमंद होगा ?

Question 6 - क्या छत्तीसगढ़ में कांग्रेस विस चुनाव वाला करिश्मा दोहरा पाएगी ?

Question 7 - क्या लोकसभा चुनाव में महागठबंधन असरदार होगा ?

Question 8 - क्या राफेल मुद्दे से कांग्रेस को फायदा पहुंचेगा ?

Question 9 - क्या एयर स्ट्राइक बीजेपी को चुनावी फायदा देगी ?

Question 10 - क्या इस बार वेस्ट बंगाल में बीजेपी कामयाब होगी ?

Question 11 - क्या राम मंदिर पर इस बार भी बीजेपी को वोट मिलेंगे ?

Question 12 - क्या कश्मीर के फ्रंट पर मोदी सरकार नाकाम रही है?

Question 13 - क्या आतंकवाद के खिलाफ मोदी सरकार की निति प्रभावी रही ?

Question 14 - क्या मप्र, छग, राजस्थान में बीजेपी का प्रदर्शन अच्छा रहेगा ?

Question 15 - क्या मध्य प्रदेश में बीजेपी प्रभावी प्रदर्शन करेगी ?

Question 16 -क्या दिग्विजय सिंह भोपाल का चुनाव जीत पाएंगे ?

Web Title : Police Arrested Karni sena Chief Virendra Singh Tomar

जरूर देखिये