पुलिस की लापरवाही: क्या ऐसे नाबालिगों को मिलेगा न्याय, रेप के 11 मामलों में संदेहियों का नहीं कराया DNA टेस्ट

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 21 Jul 2019 07:19 PM, Updated On 21 Jul 2019 07:04 PM

भोपाल: मध्यप्रदेश पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है। दरअसल पुलिस ने नाबालिगों से रेप गैसे गंभीर मामलों में संदेहियों को डीएनए टेस्ट किए बिना ही मामले की जांच में जुटी हुई है। गौर करने वाली बात यह है कि सीएसपी लेवल के अधिकारी इन मामलों की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। ऐसे एक दो नहीं बल्कि लगभग एक दर्जन मामले हैं जिनमें पुलिस ने लापरवाही पूर्वक कार्रवाई की है। हाईकोर्ट ने पुलिस की इस लापवाही का खुलासा किया है। फिलहाल सभी थानों के थाना प्रभारियों को डीआईजी ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

Read More: वेस्टइंडीज दौरे के लिए टीम इंडिया का ऐलान, दो नए चेहरों को किया शामिल, देखिए तीनों फार्मेट में शामिल खिलाड़ी

मिली जानकारी के अनुसार हाईकोर्ट में नाबालिग से रेप के मामलों में संदेहियों का डीएनए टेस्ट नहीं कराए जाने का खुलासा होने के बाद। डीआईजी ने 11 मामले चिन्हित किए हैं। इन सभी मामलों में पुलिस ने जांच के दौरान लापरवाही करते हुए संदेहियों के डीएनए टेस्ट नहीं करवाए हैं।

Read More: स्वास्थ्य विभाग के बाद इन विभागों में ​फेरबदल, कई अधिकारी और कर्मचरियों का तबादला आदेश जारी

CSP लेवल के अधिकारी करते हैं ऐसे मामलों की मॉनिटरिंग
बता दें कि नाबालिग से रेप के मामले में संदेहियों पर पॉक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई की जाती है। इन मामलों में लापरवाही न हो इसलिए सीएसपी लेवल के अधिकारियों को मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी दी जाती है। बावजूद इसके ऐसी लापरवाही होना पुलिस की कार्रवाई पर सवालिया निशान लगाती है।

Read More: 'मंत्री से मिलिए' कार्यक्रम में मोहम्मद अकबर सुनेंगे जनता की समस्याएं, सोमवार को यहां बैठेंगे मिनिस्टर

इन थाना क्षेत्रों के हैं मामले
ऐसे मामलों को संबंध में डीजीपी ने जब चिन्हित किया तो 11 मामले प्रकाश में आए। जिसमें सबसे अधिक कोलार थाना क्षेत्र में 7 मामले है, जिनमे पुलिस ने संदेहियों के डीएनए टेस्ट नहीं करवाए हैं। वहीं, बजरिया, रातीबड़, बैरागढ़, और गांधीनगर के 1-1 मामलों में पुलिस ने लापरवाही बरती है।

Read More: आरक्षण को लेकर सरकार का बड़ा फैसला!, इन कर्मचारियों को मिलेगा 2 प्रतिशत आरक्षण

Web Title : Police department not tested DNA of ?Suspected in 11 cases of Minor's rape

जरूर देखिये