बौखला गए SDOP साहब जब महिला ने मदद के लिए किया फोन, कहा- शर्म नहीं आती, रात में पुलिस को परेशान करती है

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 21 Jul 2019 10:50 PM, Updated On 21 Jul 2019 11:04 PM

भोपाल: पुलिसकर्मियों पर आम जनता से अभद्र व्यवहार करने का आरोप लगातार लगते रहे हैं। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से एक ऐसा ही मामला सामने आया है। दरअसल इन दिनों सोशल मीडिया पर एक महिला और पुलिस के अधिकारी का ऑडियो वायरल हो रहा है। बताया जा रहा है कि मारपीट के मामले को लेकर महिला ने भोपाल एसडीओपी अनिल त्रिपाठी को देर रात फोन किया था। इस बात को लेकर एसडीओपी साहब भड़क गए और फोन पर ही धमकी देते हुए कहा तुम्हें शर्म नहीं आती, रात में पुलिस को परेशान करती हो। धारा लगाकर 15 दिन के लिए जेल भेज दूंगा तब समझ में आएगा।

Read More: दो बाइक की भिड़ंत में 1 की मौत, 2 बच्चों समेत 6 घायलों का उपचार जारी

दरअसल भोपाल निवासी एक महिला ने बीती रात बदमाशों द्वारा पति और खुद से मारपीट की शिकायत करने के लिए एसडीओपी अनिल त्रिपाठी को फोन दिया था। जिस समय महिला ने फोन किया था एसडीओपी अनिल त्रिपाठी नींद भांज रहे थे। नींद खराब करना मिसरोद को नागवार गुजरी और उन्होंने महिला को धमकी देते हुए कहा कि ''तुझे शर्म नहीं आती, रात में पुलिस को परेशान करती है, मुकदमा ठोककर 15 दिन के लिए जेल भेज दूंगा।''

Read More: RTI संशोधन कानून को लेकर सीएम भूपेश बघेल का बड़ा बयान, भाजपा पर निशाना साधते हुए कही ये बात

अधिकारी के इस लहेजे में बात करने के अंदाज से पीड़ित महिला को इस बात का अंदाजा हो गया ​था कि यहां से भी कोई मदद नहीं मिलने वाला। इतनी सुनते ही पीड़िता ने फोन कट कर दिया। फिलहाल महिला की शिकायत पर अभी तक पुलिस ने एफआईआर दर्ज नहीं की है।

Read More: पूर्व मुख्यमंत्री ने किया कांग्रेस पर पलटवार, कहा- केंद्र ने दिया छत्तीसगढ़ को सम्मान

नींद में खलल पड़ना नागवार गुजरी
पीड़िता ने थाने में शिकायत दर्ज नहीं किए जाने पर अधिकारी को शिकायत करने के लिए फोन किया, लेकिन अधिकारी को नींद में खलल डालना उन्हें नागवार गुजरी। उन्होंने ही बिना मामले की जानकारी लिए कह दिया कि ''तुझे शर्म नहीं आती, रात में पुलिस को परेशान करती है, मुकदमा ठोककर 15 दिन के लिए जेल भेज दूंगा।''

Read More: सरकार चली गई पर पूर्व मंत्री का रुतबा कायम, कांग्रेस ने कसा तंज

जनता की सुरक्षा की कसमें
ज्ञात हो कि पुलिस अधिकारी या ​कर्मचारियों का नौकरी देते समय यह कसम खिलाया जाता है कि किसी भी परिस्थिति में जनता की सुरक्षा के लिए तत्पर रहेंगे। लेकिन यहां तो एसडीओपी साहब अपनी जिम्मेदारी भूलकर पीड़ितो को ही तमीज का पाठ पढ़ा दिया।

Read More: इस सरकारी स्कूल में संदिग्ध परिस्थितियों में जलाए गए दस्तावेज, गणवेश और किताब, बेखबर हैं अधिकारी

Web Title : police officer abuse with lady on phone

जरूर देखिये