निगम घेरने निकले बीजेपी कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रोका, महापौर ने आवास में बुलाई बैठक

 Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 14 Jun 2019 07:02 PM, Updated On 14 Jun 2019 07:02 PM

रायपुर। जिला भाजपा ने पेयजल संकट, नहर सफाई, पीलिया के प्रकोप, सफाई व्यवस्था और संपत्ति कर के मुद्दों पर शुक्रवार को रैली निकालकर महापौर के खिलाफ जंगी प्रदर्शन किया। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने निगम मुख्यालय का घेराव करने की भी कोशिश की लेकिन पुलिस ने उन्हें दरवाजे पर ही रोक लिया। बीजेपी कार्यकर्ता अपर आयुक्त के आश्वासन के बाद माने।

कार्यकर्ताओं ने बीजेपी कार्यालय से निगम मुख्यालय तक पैदल मार्च किया। हालांकि जब कार्यकर्ताओं की भीड़ निगम मुख्यालय पहुंची तो पुलिस ने उन्हें गेट पर ही रोक लिया। इस दौरान 3 हजार से ज्यादा कार्यकर्ता मौजूद थे। रोके जाने के बाद प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच जमकर धक्कामुक्की ही। इसके बाद अपर आयुक्त के आश्वासन पर बीजेपी का विरोध-प्रदर्शन खत्म हुआ।

यह भी पढ़ें : मियाद खत्म होने के बाद भी ईओडब्ल्यू के सामने पेश नहीं हुए माखनलाल विवि के पूर्व कुलपति, लगाया आवेदन 

अपर आयुक्त ने पेयजल की वैकल्पिक व्यवस्था जल्द करने का आश्वासन दिया। हालांकि प्रदर्शन के दौरान महापौर निगम मुख्यालय नहीं पहुंचे। लेकिन प्रदर्शन के बाद महापौर प्रमोद दुबे ने अपने आवास में अधिकारियों की बैठक बुलाई। इस बैठक में कई जोन आयुक्त और कार्यपालन अभियंता भी मौजूद रहे।

Web Title : Police stopped BJP workers from encircling municipal corporation office

जरूर देखिये