चिटफंड कंपनी में निवेश करने वालों के लिए अच्छी खबर, जांच दल ने सरकार को सौंपी रिपोर्ट

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 04 Apr 2019 04:25 PM, Updated On 04 Apr 2019 04:27 PM

रायपुर: लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर जहां एक ओर पूरे देश में गहमा गहमी का माहौल बना हुआ है, वहीं, दूसरी ओर छत्तीसगढ़ सरकार अपने वादों को पूरे करने मेें लगी हुई है। इसी कड़ी में चिटफंड में निवेश करने वालों के लिए अच्छी खबर सामने आई है। जांच टीम ने 19 प्रकरणों में चिटफंड कंपनियों की संपत्ति का ब्योरा सरकार को सौंप दी है, साथ ही 50 चिटफंड कंपनियों की सपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई जरी है। कंपनियों की संपत्ति कुर्क करने के लिए प्रदेश के सभी जिला कलेक्टरों को निर्देश जारी कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि अध्ययन दल महाराष्ट्र सरकार के कानून एवं वहां अपनाई जा रही विधि एवं प्रक्रिया का अध्ययन कर अपनी रिपोर्ट पुलिस मुख्यालय के माध्यम से शासन को सौंपी है।

Read More: Watch Video: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर लगाया आरोप, कहा- न अपनों के हुए न परायों के

बता दें कि छत्तीसगढ़ की सत्ता संभालने के बाद ही सीएम भूपेश बघेल ने चिटफंड कंपनियों के निवेशकों के पक्ष में बड़ा फैसला लिया था। भूपेश बघेल ने कहा था कि चिटफंड एजेंटों के खिलाफ दर्ज किए गए केस वापस लिए जाएंगे और निवेशकों के पैसे वापस किए जाएंगे। भूपेश कैबिनेट ने भी इस फैसले का स्वागत करते हुए मुहर लगा दी थी। अब सरकार ने निवेशकों के पैसे वापस करने के लिए एक और बड़े कदम की ओर अग्रसर है।

Web Title : Police Submitted Property Detail of Chitfund company to Chhattisgarh Government

जरूर देखिये