मालवा निमाड़ की 8 सीटों पर मतदान 19 मई को, दोनों पार्टी के दिग्गजों ने झोंकी ताकत

Reported By: Shalini Hardia, Edited By: Vivek Mishra

Published on 12 May 2019 09:47 PM, Updated On 12 May 2019 09:47 PM

इंदौर। मध्यप्रदेश की राजनीति में अहम हिस्सा रखने वाला मालवा निमाड़ क्षेत्र में अंतिम चरणों में चुनाव होना है। 19 मई को मालवा निमाड़ की 8 सीटों पर मतदान होगा। ऐसे में मध्यप्रदेश में दिग्गजों के ताबतोड़ प्रचार जारी है। दोनों प्रमुख पार्टियां इन दिनों 8 सीटों पर जीत हासिल करने के लिए पूरी ताकत झोक दी है। कांग्रेस को जिताने के लिए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ बहन प्रियंका गांधी वाड्रा और प्रदेश के मुखिया कमलनाथ ने कमर कस ली है।

ये भी पढ़ें: अमित शाह ने कहा- नरेंद्र मोदी दोबारा पीएम बने तो अनुच्छेद 370 खत्म करेगी बीजेपी

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जीत की बादशाहत को बरकरार रखने के लिए मालवा निमाड़ में आ रहे हैं। दरअसल इंदौर लोकसभा सीट से इस बार आईडी के पूर्व अध्यक्ष शंकर लालवानी को चुनावी मैदान में उतारा है और कांग्रेस ने उम्मीदवार के रूप में वरिष्ठ नेता पंकज संघवी को जीत की जिम्मेदारी सौंपी है। इंदौर वैसे तो पहले हाई प्रोफाइल सीटों में से एक मानी जाती थी, लेकिन इस बार दोनों ही पार्टी ने बड़े नेताओं को मैदान में न उतारकर इसे राहुल बैनाम मोदी बना दिया है। इंदौर में पार्टी को जोश भरने खुद प्रधानमंत्री मोदी आ रहे हैं।

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी की सुरक्षा में भारी चूक, समर्थकों की भीड़ के कारण रुका काफिला, जानिए 

सोमवार को प्रियंका गांधी रोड शो के जरिए इंदौर की 23 लाख 49 हजार 476 मतदाता को साधने को तैयार हैं। संगठन को मजबूती देने के लिए दोनों की पार्टी के कार्यकर्ता चाहते थे कि पार्टी के कर्ता-धर्ता कम से कम सभा और रोड शो के माध्यम से जनता से रूबरू हों, जिसके बाद से स्टार प्रचारकों की फौज यहीं पर डटी रहने वाली है। प्रियंका गांधी के बाद राहुल गांधी, ज्योतिरादित्य सिंधिया और मुख्यमंत्री कमलनाथ की सभा की मांग की जा रही है।

ये भी पढ़ें: बालाकोट एयर स्ट्राइक पर महबूबा मुफ्ती ने कहा- सच्चाई पूछने पर निशाना साधा गया

इधर भाजपा में नितिन गटकारी, राजनाथ सिंह, हेमा मालिनी, योगी आदित्यनाथ ,स्मृति ईरानी, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जैसे वरिष्ठ नेताओं की सभा तय की जा रही है। हाल ही सम्पन्न हुए विधानसभा चुनाव में मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में कांग्रेस की सरकार आने के बाद छह माह के बाद लोकसभा चुनाव में पार्टी के पक्ष में होना सम्भव है। ऐसे में भाजपा एड़ी-चोटी का दाव लगाने में जुटी है और पार्टी के पक्ष में ज्यादा से ज्यादा सीटें हासिल करने के लिए पसीना बहा रही है।

Web Title : Polling for 8 seats in Malwa Nimar on May 19,Both the party's veterans have won

जरूर देखिये