म्यांमार यात्रा पर बोले प्रधानमंत्री मोदी हमारी सीमाएं ही नहीं भावनाएं भी जुडीं हुई

Reported By: Aman Verma, Edited By: Aman Verma

Published on 06 Sep 2017 10:18 PM, Updated On 06 Sep 2017 10:18 PM

म्यांमार यात्रा पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार की शाम को यंगून में भारतीय समुदाय को संबोधित किया. यहां उन्होंने कहा कि भारत की म्यांमार के साथ सिर्फ सीमाएं ही नहीं भावनाएं भी जुड़ीं हुई हैं. मोदी बोले म्यांमार को भगवान ब्रह्मा की धरती कहा जाता है. यह वह धरती है जिसने भगवान बुद्ध की परंपराओं को सहेजा रखा है। 

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि भारत की स्वतंत्रता का इतिहास भी म्यांमार को याद किए बिना अधूरा रह जाएगा। यहीं से नेता जी सुभाष चंद बोस ने तुम मुझे खून दो मै तुम्हे आजादी दूंगा का नारा दिया था. आजादी की लड़ाई में म्यांमार की बड़ी भूमिका रही है. उन्होंने कहा कि जब विदेशी ताकतों से देश को आजाद करने के लिए देश के वीर सपूतों को अपना घर छोड़ना पड़ता था तो म्यांमार ही उनका दूसरा घर बनता था. 

इसके अलावा पीएम मोदी ने म्यांमार की स्टेट काउंसलर आंग सान सू की से मुलाकात कर, रोहिंग्या मुसलमानों समेत कई मुद्दों पर बात की...दोनों देशों की साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम ने कहा कि म्यांमार की आंतिरक हालात से भारत चिंतित है..वहीं आंग सान सू की ने कहा है कि उनका देश रखाइन प्रांत में बसे सभी लोगों को बचाने की पूरी कोशिश कर रहा है। 

 

Web Title : Prime Minister Modi on Myanmar visit not only borders but also emotions

जरूर देखिये