प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरदार सरोवर बांध राष्ट्र को समर्पित किया

Reported By: Aman Verma, Edited By: Aman Verma

Published on 17 Sep 2017 10:48 AM, Updated On 17 Sep 2017 10:48 AM

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज 67 साल के हो गए। वैसे तो जिसका जन्मदिन होता है, गिफ्ट उसे ही मिलता है, लेकिन नरेंद्र मोदी ने अपने जन्मदिन पर देश को तोहफा दिया है। अपने गृह राज्य गुजरात में सरदार सरोवर बांध परियोजना उन्होंने देश को समर्पित किया है। आज प्रधानमंत्री ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल की मौजूदगी में सरदार सरोवर बांध का लोकार्पण किया। केवाडिया में इस बांध के राष्ट्रार्पण का इंतजार देश को 56 साल से था, जो आज पूरा हुआ है।

प्रधानमंत्री ने आज सुबह नर्मदा जिले के केव​​ड़िया ​स्थित सरदार सरोवर नर्मदा बांध परियोजना पर नर्मदा नदी की पूजा-अर्चना की और इसके बाद वह इस परियोजना का लोकार्पण किया. केवड़िया में मौसम खराब होने के चलते पीएम के चॉपर की लैंडिंग दाभोई में कराई गई. वहां से वह सड़क मार्ग से केवड़िया के लिए रवाना हुए थे। पीएम मोदी सरदार सरोवर परियोजना के 30 दरवाजे खोलकर इसे राष्ट्र को समर्पित किया. इस बांध प​रियोजना और इस पर बनी बिजली परियोजना से चार राज्यों गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान और मध्य प्रदेश को लाभ मिलेगा. प्रधानमंत्री के इस कार्यक्रम के माध्यम से नर्मदा यात्रा का भी समापन होगा. इस यात्रा में 85 रथ 24 जिलों, 14 शहरों, 71 कस्बों और 10 हजार गांवों से गुजरे. प्रत्येक रथ पर नर्मदा की प्रतिमा को रखा गया था. 

 सरदार सरोवर बांध के निर्माण से 4 करोड़ लोगों को पानी मिलने का अनुमान है, जबकि कम से कम 10 लाख किसानों को सिंचाई सुविधा मिलने की उम्मीद है। सरदार सरोवर बांध की जल भंडारण क्षमता 47.5 क्यूबिक मीटर है, जबकि ऊंचाई 138.67 मीटर है। सरदार सरोवर बांध दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा बांध है।

 

 प्रधानमंत्री बांध के समीप ही बन रही सरदार वल्लभ भाई पटेल की विशालकाय प्रतिमा 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' के निर्माण में हुई प्रगति का जायजा लिया. 182 मीटर ऊंची यह प्रतिमा विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा होगी. अभी 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' को दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा माना जाता है.

Web Title : Prime Minister Narendra Modi dedicates Sardar Sarovar Dam to the nation

जरूर देखिये