शिक्षक ने मांगा वेतन तो कलेक्टर ने भेज दिया जेल, संघ ने जताई नाराजगी

 Edited By: Renu Nandi

Published on 14 Mar 2019 06:50 PM, Updated On 14 Mar 2019 06:50 PM

कोरिया। कोरिया में एक शिक्षक पर ज़्यादती का मामला सामने आया है। जब उसने अपने अधिकारी से वेतन की मांग की तो उसके साथ ना सिर्फ अपराधी जैसा बर्ताव किया गया बल्कि उसे निलंबित कर जेल भी भेज दिया गया ।
ये भी पढ़ें -आरटीई के तहत प्राइवेट स्कूलों में दाखिला 30 मार...

मिली जानकारी की अनुसार जिला कलेक्टर कोरिया ने शिक्षक सुरेंद्र जायसवाल द्वारा अपने लंबित वेतन मांगने पर उन्हें निलम्बित कर दिया है साथ ही बिना किसी अपराध के जेल भेज दिया गया है। जिसे लेकर शिक्षक संघ में नाराज़गी देखी जा रही है।

ये भी पढ़ें -आतंकियों ने नेशनल कॉन्फ्रेंस पार्टी के सदस्य इस्माइल वानी को मारी गोली, हालत गंभीर

शिक्षाकर्मी संघ का कहना है कि कोई जिलाधीश कैसे अपने अधिकार का ऐसे दुरुपयोग कर सकता है। यदि कोई शिक्षक अपने वेतन नही मिलने की जानकारी अपने जिलाधीश को देता है तो तुरन्त वेतन प्रदान करने के निर्देश सक्षम अधिकारी को देने के बजाय उस शिक्षक को ही निलंबित कर दिया गया जो पहले से आर्थिक, सामाजिक कष्ट को झेल रहा था। निलबंन के साथ ही जेल में डाल देना यह कहाँ की न्याय व्यवस्था है। बताया जा रहा है कि सुरेंद्र शुक्ल पर इस तरह की गई कार्रवाई से नाराज़ शिक्षक संगठन का कहना है कि जल्द ही इस मामले का पटाक्षेप नही किया गया तो प्रदेश के सभी शिक्षक संगठन मिलकर आगे की रणनीति बनाने के लिए मजबूर होंगे।और सरकार के सामने अपनी बात रखेंगे।

Web Title : prison to teacher:

जरूर देखिये