जब बिना लोको पायलट चल पड़ा रेल इंजन, ट्रैक पर मची अफरा- तफरी, देखिए क्या हुआ अंत में

Reported By: Mohandas Manikpuri, Edited By: Rupesh Sahu

Published on 27 May 2019 02:58 PM, Updated On 27 May 2019 03:22 PM

बालोद।  दल्लीराजहरा बालोद रेल्वे रूट पर एक बड़ा हादसा टल गया। दरअसल दल्लीराजहरा स्थित आयरन ओर खदान के बाटम में बीएसपी के लोको इंजन का ब्रेक फेल हो जाने से हड़कंप की स्थिति बन गई। माइन्स में माल लोड करने डिब्बों को लाईन में लगाने वाला इंजन बिना चालक ही चल पड़ा। बिना लोको पायलट के इंजन माइन्स क्षेत्र से दल्लीराजहरा स्टेशन की ओर पटरी पर दौड़ने लगा। गनीमत रही कि स्टेशन के पहले ट्रैक मुड़ा हुआ था तो इंजन डेड लाईन में चला गया । जहां तक पटरी बनी हुई थी वहां तक जाने के बाद फिर जमीन मे जाकर इंजन के पहिए धस गए।

ये भी पढ़ें- प्रचंड जीत के बाद पहली बार गृह प्रदेश पहुंचे नरेंद्र मोदी, मां के प...

इस दौरान इंजन की स्पीड भी बहुत थी। इस धटना से बीएसपी और रेल्वे विभाग में हड़कंप मच गया। जानकारी के अनुसार माइन्स में इंजन का चालक सुखचैन बधेल इंजन को खड़ा कर उतरा ही था कि ढलान की वजह से इंजन आगे बढ़ने लगा। चालक फिर इंजन पर चढ़ा और ब्रेक लगाने की कोशिश की लेकिन इंजन का ब्रेक फेल हो गया। इंजन तेजी से आगे बढ़ने लगा। चालक घबराकर इंजन से कूद गया । इंजन बिना चालक करीब 6 किलोमीटर माइन्स से रेल्वे स्टेशन की तरफ बढ़ गया।

ये भी पढ़ें- लुकआउट सर्कुलर जारी करते ही CBI की टीम पहुंची पूर्व कमिश्नर राजीव क...

आगे स्टेशन के नजदीक ट्रेक मुड़ा हुआ होने की वजह से इंडन डेड लाईन में चला गया। बता दें कि यदि इंजन मुड़े हुये ट्रेक पर नहीं जाता तो एक बड़ा हादसा दल्लीराजहरा कुसुमकसा रूट पर सकता था। हालांकि किस्मत से ये हादसा टल गया और इंजन डेड एंड में जाकर जमीन में धस गया ।  बाद में रिलीफ ट्रेन द्वारा इंजन को वापस ट्रैक पर लाया गया। वहीं इस पूरे मामले में दल्लीराजहरा बीएसपी व रेल्वे विभाग के अधिकारी कुछ भी कहने से बचते रहे।

Web Title : Rail engine running without driver

जरूर देखिये