आरक्षक के खिलाफ दर्ज हुआ अमानत में खयानत का मामला, गायब पाए गए सरकारी मालखाने से कई आवश्यक सामाग्री

Reported By: Astik Manikpuri, Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 09 Sep 2019 11:59 PM, Updated On 09 Sep 2019 11:59 PM

राजिम: थाना गोबरा नवापारा द्वारा थाने के मालखाना से जब्ती सामान और नगदी रकम गायब करने के आरोपी प्रधान आरक्षक के विरुद्ध अमानत में खयानत का मामला दर्ज किया है। बताया गया कि आरोपी प्रधान आरक्षक का नाम घनश्याम सिंह कंवर है, जो कि वर्ष 2012 से इस वर्ष जनवरी तक गोबरा नवापारा थाने में मालखाना का प्रभारी था। जनवरी में उसका ट्रान्सफर अजाक थाना रायपुर हुआ, जिस पर उसने मालखाना का प्रभार सौंपे बिना, अजाक थाने में ज्वायनिंग दे दी। थाना गोबरा नवापारा द्वारा उसे बार-बार मालखाना का प्रभार सौंपने बुलाया जाता रहा गया, लेकिन हर बार वह कोई न कोई बहाना बना देता था।

Read More: शिक्षकों के बंपर तबादले, व्याख्याता, सहायक शिक्षक सहित 121 कर्मचारियों का ट्रांसफर

आखिरकार 28 अगस्त को वह प्रभार सौंपने आया। इस दौरान जब जब्ती रजिस्टर और जरायम रजिस्टर का मिलान किया गया, तो मालूम हुआ कि मालखाने से विभिन्न प्रकरणों में जब्त 84 हजार 382 रुपए नगद, 1 सोने का चैन वजनी 12.05 ग्राम, 2 नग चांदी में मेडल, 1 अपोलो बैटरी, 4 नग मोबाइल और 3 कैश वाउचर गायब हैं। इसके बाद पंचनामा तैयार कर कंवर से पूछताछ की गई, जिसका उसने कोई जवाब नहीं दिया। इसके बाद से वह मोबाइल बंद कर गायब हो गया। इसके बाद एसपी रायपुर के निर्देश पर आरोपी प्रधान आरक्षक घनश्याम सिंह कंवर के विरुद्ध आईपीसी की धारा 409 के तहत अपराध दर्ज किया गया। अपराध दर्ज होने के बाद मामले को गंभीर मानकर एसपी रायपुर आरिफ शेख द्वारा कंवर को निलंबित कर दिया गया है।

Read More: नगरीय प्रशासन विभाग ने दो तत्कालिक CMO सहित 6 कर्मचारियों को किया निलंबित, जानिए क्या है मामला

Web Title : Register case against Constable on Charge of Breach of trust

जरूर देखिये