फिर से हुआ नरसंहार, एक दर्जन हमलावरों ने चार लोगों को दी दर्दनाक मौत, जादू—टोना का लगाया आरोप

 Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 21 Jul 2019 02:07 PM, Updated On 21 Jul 2019 02:07 PM

गुमला। झारखण्ड के गुमला में डायन के संदेह में चार लोगों को पहले बुरी तरह पीटा और उसके बाद उनकी गला रेतकर हत्या कर दी गई। डायन के संदेह में इस हत्याकांड को अंजाम गुमला जिले के सिसकारी गांव में दिया गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार रविवार तड़के 3 बजे के लगभग एक दर्जन हमलावरों ने घर में से खींचकर चार लोगों को बाहर निकाला और फिर उनकी गला काटकर हत्या कर दी। नरसंहार को अंजाम देने से पहले गांव में हमलावरों ने पंचायत लगाई थी। इन लोगों पर टोना-टोटका का आरोप लगाकर हत्या की गई।

read more : बैंकों के कर्ज से परेशान किसान ने जहर खाकर की आत्महत्या

मामले में पुलिस ने सभी शवों को कब्‍जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। पुलिस कहा है कि चारों लोगों की हत्‍या सुनियोजित घटना है। षडयंत्र पहले से रचा जा रहा था, लेकिन पुलिस को इसकी भनक नहीं लग सकी। जिन लोगों की हत्या की गई है, उनमें 60 वर्षीय चापा उरांव, उसकी पत्नी पीरा उराईन सहित गांव के 2 अन्य लोग शामिल हैं।

read more : इस प्रदेश के पूर्व बीजेपी अध्यक्ष का निधन, 2003 में पहली बार बने थे विधायक

घटना को अंजाम देने से पहले डंडे और धारदार हथियारों से लैस लोगों ने तीन घरों का दरवाजा खुलवाकर चार लोगों को अपने कब्जे में ले लिया और बाहर से सभी तीन घरों में ताला जड़ दिया। अगवा किए गए सभी लोगों को अपराधी गांव के किनारे ले गए। जहां पहले चारों लोगों की लाठी-डंडे से बुरी तरह पिटाई की।
उसके बाद एक-एक कर चार लोगों को मौत के घाट उतार दिया।

read more : रातभर पाइप के सहारे कुंए में लटका रहा किसान, चोरों ने किसान को फेंका था कुंए में

हत्या के बाद घटना को अंजाम देने वाले लोग गांव छोड़ कर भाग गए हैं। गांव के ज्यादातर घरों में ताला लगा हुआ है। ग्राम प्रधान से पुलिस पदाधिकारी पूछताछ कर रहे हैं।

Web Title : Repeated massacre, a dozen assailants gave four people the painful death, allegations of magic

जरूर देखिये