FILM REVIEW: ''SAAHO'' को सहो....कब खत्म होगी! ओवरडोज एक्शन पर फीकी कहानी है 'साहो'

 Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 30 Aug 2019 07:05 PM, Updated On 30 Aug 2019 07:05 PM

FILM REVIEW: प्रभास और श्रद्धा कपूर के साथ लंबी चौड़ी स्टारकास्ट से सजी फिल्म साहो रिलीज हो चुकी है जिसमें चंकी पांडे, मंदिरा बेदी, महेश मांजरेकर, टीनू आनंद, नील नीतिन मुकेश जैसे कलाकार है। कई जगह फिल्म के मॉर्निंग शोज कैंसल थे तो फिल्म देखने के लिए काफी मशक्त करनी पड़ी, बड़ी मुश्किल से 250 रुपए का टिकट लेकर फिल्म देखने के लिए पहुंचे...सिनेमाहॉल हाउसफुल था।

read more: फिल्म 'द जोया फैक्टर'का कॉमेडी-इमोशन-रोमांस से भरपूर ट्रेलर रिलीज, बबली गर्ल ...

जैसे तैसे अपनी सीट तक पहुंचे और फिल्म शुरू हुई। जहां फिल्म में एक हाईप्रोफाइल गैंगस्टर भाइओं की मीटिंग चलती है कि दुनिया के सबसे खतरनाक डॉन भाइयों 2000 करोड़ रुपए की चोरी हो जाती है अब विदेश से लेकर मुंबई तक तहलका मच जाता है क्योंकि चोरी मुंबई में हुई है। अब चोरी को पकड़ने और और केस को सुलझाने के लिए पुलिस ऑफिसर अशोक (प्रभास) और अमृत (श्रद्धा कपूर) की दमदार और एक्शन अंदाज में होती है। जिसे देखकर आपको यकीन होता कि फिल्म धमाकेदार होगी, अब ये रॉबरी कैसे होती कौन करता है विलन कौन है उसका साहो से क्या कनेक्शन है ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

read more: एक्शन से भरपूर फिल्म 'वॉर' का ट्रेलर रिलीज, फिल्म में ऋतिक रोशन और ...

अब बात फिल्म के एक्शन सीन्स की जिसकी जमकर चर्चा हो रही थी फिल्म 350 करोड़ के बजट में बनकर तैयार हुई है जिसमें से 100 करोड़ रुपए एक्शन सीन्स पर खर्च किया गया और 100 करोड़ लोकेशन पर तो फिल्म के एक्शन सीन्स वाकई जबरदस्त हैं। एकदम हॉलीवुड स्टाइल के इंटरनेशनल हॉलीवुड डायरेक्टर्स ने जी जान लगाकर फिल्म के एक्शन सीन्स शूट किए हैं जो प्रभास पर फिट बैठते हैं, फिल्म की लोकेशन इंटरनेशनल अपील देती है।

read more: दीपक कलाल इस बार राखी सावंत की ननद के हाथों हुए हलाल, भाई को अपशब्द...

अब बात फिल्म हीरो प्रभास की जो कि हिंदी फिल्मों में डेब्यू कर रहे हैं प्रभास अशोक के रोल में दमदार लगे हैं। एक्शन सीन्स जबरदस्त किए हैं लेकिन हिंदी डायलॉग्स काफी स्लो है वो दमदार डायलॉग्स नहीं बोल पाए कहीं ना कहीं उनकी आवाज दबी हुई नजर आ रही थी..जो दर्शकों को पसंद नहीं आ रहा था। हीरोइन श्रद्धा कपूर ने भी एक्शन सीन्स किए हैं प्रभास के साथ उनकी जोड़ी अच्छी लगी है बाकी कलाकारों में विलेन की फौज है चंकी पांडे विलन के रोल में जमे नहीं, नील नितिन, मुकेश दमदार नजर नहीं आए, मंदिरा बेदी का कैरेक्टर भी अधूरा था महेश मांजरेकर दिखे ही नहीं।

read more: 'बादशाह' का कबूलनामा, हॉ रेलवे स्टेशन पर की है कई लड़कियों से मोहब्बत

कमजोर कड़ी-भई फिल्म के एक्शन सीन्स पर पानी की तरह पैसा बहाया गया। लेकिन कहानी पर जरा भी दिमाग नहीं लगाया गया, कहानी बहुत स्लो और लंबी है जिसे देखकर आप कहने लगेंगे ''साहो'' को सहो कि फिल्म कब खत्म हो और आप यहां से बाहर निकलें। फिल्म में एक्शन सीन्स का ओवरडोज है बेमतलब के एक्शन सीन्स हैं। लोकेशन देखकर आप समझ नहीं पाएंगे कि कहा की शूटिंग है अधूरी बिल्डिंग धड़ाम से गिरना और गाने तो उससे भी ज्यादा बोझिल है जब गाने इंटरनेट पर नहीं चल रहे थे तो फिर उन्हें पूरा पूरा फिल्म में डालने की क्या जरूरत थी। वहीं फिल्म का ब्लैकग्राउंड म्यूजिक काफी लाउड है जो आपके सिर और कानों में दर्द कर देगा और आप बाहर का रास्ता देखने लगेंगे, प्रभास बाहुबली वाली इमेज वाला स्थान नहीं बना पाएंगे ये फिल्म मेरे हिस्साब से वो धमाल नहीं कर पाई जिसकी मैंने उम्मीद की थी।

read more: Watch Video: अंगूरी भाभी का विवादित बयान, कहा- पाकिस्तान में जाकर प...

कहानी के नाम पर कुछ नहीं है बस एक्शन का ओवरडोज़, बोरिंग गानों का साथ, इंटरनेशनल लोकेशन का अधूरा साथ और कुछ नहीं। आखिरी में भई फिल्म का एक डायलॉग है जो दिखता है वो होता नहीं, और जो होता है वो दिखता नहीं बस यही है साहो की कहानी। बच्चों को ये फिल्म परेशान कर सकती है, लेकिन अगर आप एक्शन और प्रभास के डाई हार्ट फैन है तो ही ''साहो'' देखने का रिस्क लीजिएगा।

 

Web Title : 'Saaho' is a dull story on overdose action

जरूर देखिये