शंकराचार्य जयेंद्र सरस्वती का निधन

Reported By: Renu Nandi, Edited By: Renu Nandi

Published on 28 Feb 2018 01:02 PM, Updated On 28 Feb 2018 01:02 PM

चेन्नई कांची मठ के 69वें प्रमुख शंकराचार्य जयेंद्र सरस्वती का आज  सुबह निधन हो गया। वे 82 वर्ष के थे बताया जा रहा है कि कुछ दिन से  उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया था।

 

जयेंद्र सरस्वती का जन्म 18 जुलाई 1935 को तमिलनाडु में हुआ था। ज्ञात हो कि इस पद पर आसीन होने से पहले उनका नाम सुब्रमण्यम था। उन्हें 1954 में चंद्रशेखेंद्रा सरस्वती स्वामीगल ने उन्हें अपना उत्तराधिकारी घोषित किया था। उस वक्त जयेंद्र सरस्वती उम्र सिर्फ 19 साल थी। जयेंद्र सरस्वती को चारों वेदों का ज्ञाता माना जाता है। उन्होंने अपना उत्तराधिकारी शंकर विजेंद्र सरस्वती को घोषित किया है। 

 

कांची मठ पुरम् एक हिंदू  मठ है। यहां के मठाधीश को शंकराचार्य कहा जाता है। कांची मठ कई सारे स्कूलों और अस्पतालों का संचालन भी करता है। गौरतलब है कि उन्हें शंकररमन हत्याकांड में गिरफ्तार किया गया था। बाद में अदालत ने उन्हें दोषमुक्त करार दिया था।ज्ञात हो कि आद्य शंकराचार्य ने चार दिशाओं में चार पीठों की स्थापना की थी ताकि एकता बनी रहे है और सनातन धर्म की रक्षा और प्रचार हो सके। वर्तमान में चार मठों के नाम श्रंगेरी मठ, गोवद्र्धन मठ,  शारदा मठ और ज्योर्तिमठ है। 

वेब टीम ibc24

Web Title : Shankaracharya Jayendra Saraswati passes away

जरूर देखिये