कई साल बाद रक्षाबंधन पर बन रहा है ऐसा योग, जानिए क्या है शुभ मुहूर्त

 Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 14 Aug 2019 10:33 PM, Updated On 14 Aug 2019 10:33 PM

नई दिल्ली: देश में इस बार दो त्योहार एक साथ मनाया जाएगा। एक देश की आजादी का पर्व 'स्वतंत्रता दिवस' और भाई बहन का पवित्र पर्व रक्षाबंधन। लेकिन क्या आपको पता है रक्षा बंधन में ग्रह-नक्षत्र और शुभ मुहूर्त का भी विशेष महत्व है।

Read More: 12 अगस्त को बस में आगजनी के मामले में बड़ा खुलासा, पुलिस ने 3 आरोपियों को किया गिरफ्तार

रक्षा बंधन के 4 दिन पहले देव गुरु बृहस्पति मार्गी हो रहे हैं। मार्गी गुरु पर्व की शुभता को और बढ़ाएंगे। खास बात यह है कि इस बार रक्षाबंधन भद्रा के दोष से मुक्त रहेगा। इसका मतलब ये है कि पूरे दिनभर बहनें अपने भाइयों को राखी बांध सकेंगे। बता दें कि 7 साल बाद रक्षाबंधन पर ऐसा योग बन रहा है।

Read More: धारा 370 हटाने का समर्थन करने वालों की सूची में एक और कांग्रेस MLA, विनय जायसवाल ने कही ये बात...

ज्योतिषियों का ऐसा मानना है कि चार दिन पहले गुरु का मार्गी होना भी रक्षाबंधन पर शुभ मुहूर्त को और बढ़ाएगा। 15 अगस्त को गुरुवार के दिन श्रवण नक्षत्र, सौभाग्य योग, बव करण तथा मकर राशि के चंद्रमा की साक्षी में रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जाएगा।

Read More: मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अफसरों को दिए निर्देश, इधर बीजेपी ने प्रदेश सरकार पर लगाया ये आरोप

भगवान श्रवण का पूजन करें

  • रक्षाबंधन की तिथि 15 अगस्त 2019

  • रक्षाबंधन शुभ मुहूर्त

  • रक्षाबंधन अनुष्ठान का समय- सुबह 5 बजकर 53 मिनट से शाम 5 बजकर 58 मिनट

  • अपराह्न मुहूर्त- दिन में 1 बजकर 43 मिनट से शाम 4 बजकर 20 मिनट तक

  • पूर्णिमा तिथि आरंभ :14 अगस्त 2019 : दिन में 3 बजकर 45 से

  • पूर्णिमा तिथि समाप्त : 15 अगस्त 2019 शाम 5 बजकर 58 तक

Read More: कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह ने आर्टिकल 370 हटाए जाने का किया समर्थन, कही ये बात

Web Title : shubh muhura of Raksha Bandhan