सिंहस्थ 2016 :घोटाले की जांच के लिए बनी समिति,बाला बच्चन,जीतू और जयवर्धन शामिल

Reported By: Aakanksha Sharma, Edited By: Renu Nandi

Published on 21 Jan 2019 02:08 PM, Updated On 21 Jan 2019 02:08 PM

इंदौर। मध्यप्रदेश सरकार धड़ाधड़ अपने फैसले ले रही है इसी के चलते अब माखनलाल विश्वविद्यालय की घोटालो की जांच के बाद सिंहस्थ में हुई खरीदी घोटाले की भी सरकार जांच करवाने की तैयारी में है।
ये भी पढ़ें -नगरीय प्रशासन मंत्री और महापौर औचक निरीक्षण पर पहुंचे तेलीबांधा तालाब, दो अधिकारी हुए सस्पेंड

बता दें कि सरकार ने इसको लेकर एक समिति बनाई है। जिसमें गृहमंत्री बाला बच्चन, खेल मंत्री जीतू पटवारी और नगरी निकाय मंत्री जयवर्धन सिंह को समिति में शामिल किया गया है। बताया जा रहा है कि तैयार की गई समिति अपना काम भी शुरू कर दी है और समिति ने नगर निकाय विभाग से सिंहस्थ घोटाले के दस्तावेज जुटाना भी शुरू कर दिया है।


ये भी पढ़ें -नगरीय प्रशासन मंत्री और महापौर औचक निरीक्षण पर पहुंचे तेलीबांधा तालाब, दो अधिकारी हुए सस्पेंड

बता दें कि तत्कालीन बीजेपी सरकार ने 2016 में हुए सिंहस्थ में 3 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च किए थे। .कमेटी में शामिल मंत्री जीतू पटवारी का कहना है कि भ्रष्टाचार सिंहस्थ हो या फिर और अन्य कांग्रेस की सरकार भ्रष्टाचार के मुद्दे पर अलर्ट और चिंतित है। और यह भी बता दें कि हम कोई कोई भी जांच दुर्भावना या बदले की भावना से नहीं कर रहे हैं। वहीं सिंहस्थ की जांच करवाने पर भोपाल सांसद आलोक संजर का कहना है कि मध्यप्रदेश सरकार स्वतंत्र है कांग्रेस सिर्फ ध्यान भटकाने के लिए काम कर रही है। कांग्रेस खुद घोटालों की सरकार है जो जैसा करता है वो वैसा ही देखता है। .

Web Title : Simhastha 2016: Committee formed for investigation of scandal, Bala Bachchan, Jitu and Jaywardhan

जरूर देखिये