नौसैनिक जेंडर चेंज कराकर बन गया महिला, नौसेना ने किया बर्खास्त

Reported By: Pushpraj Sisodiya, Edited By: Pushpraj Sisodiya

Published on 10 Oct 2017 11:35 AM, Updated On 10 Oct 2017 11:35 AM

ये भी पढ़ें- व्हाइट हाउस में पहली बार ट्रांसजेंडर की नियुक्ति

भारतीय डिफेंस सेक्टर में अब तक का सबसे अलग तरह का मामला सामने आया है. इंडियन नेवी में पोस्टेड सैनिक मनीष गिरी अपनी मर्जी से जेंडर चेंज कराकर महिला बन गया है. और अपना नाम मनीष गिरी को बदलकर साबी रख लिया है. उसके इस कदम के बाद नौसेना ने उसे बर्खास्त कर दिया है. 

ये भी पढ़ें- अमेरिका:ट्रांसजेंडर जवानों पर प्रतिबंध हटाने विचार

मनीष ने दिल्ली में छुट्टी के दौरान जेंडर चेंज की सर्जरी कराई थी. इसके बाद गिरी विशाखापतनम के नौसेना बेस में महिला बनकर वापस लौटा. मनीष महिलाओं की तरह बाल बढ़ा लिए थे और साड़ी पहनना भी शुरु कर दिया था. 

ये भी पढ़ें- देश की पहली ट्रांसजेंडर पुलिस सब-इंस्पेक्टर बनेगी

नौसेना से बर्खास्तगी के बाद मनीष गिरी अब न्याय के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे, मनीष के मुताबिक सिर्फ इसलिए मुझे नौकरी से निकाला जा सकता है कि मैंने अपना सेक्स चेंज करवा लिया है मैं कोई चोर या आतंकी नहीं हूं. उनका कहना है कि मैंने सात साल तक देश की सेवा की है। 

ये भी पढ़ें- छग में पिछले एक साल में दो दर्जन से ज्यादा थर्डजेंडर पुरुष या महिला बने

मनीष के तर्क पर नौसेना ने भी अपनी सफाई दी है. नौसेना का कहना है कि मनीष ने भर्ती के बाद शामिल होने के दौरान उनकी जो लैंगिक स्थिति थी, उसमें बदलाव कर उन्होंने नौसेना के भर्ती के नियमों और अपनी नियुक्ति की योग्यता के मानकों को तोड़ा है।  

ये भी पढ़ें- मानबी बनी पहली ट्रांसजेंडर प्रिसिंपल

मौजूदा नियमों के मुताबिक नाविक को लैंगिक स्थिति, मेडिकल स्थिति और भर्ती संबंधी बंदिशों के कारण सेवा में बने रहने की इजाजत नहीं दी जा सकती है। उन्हें प्रशासनिक रूप से सेवा से हटा दिया गया है।

ये भी पढ़ें- भोपाल में दूसरी बार लेस्बियन, गे, बाइसेक्सुअल एंड ट्रांसजेंडर परेड का आयोजन

यह कदम नौसेना के उन नियमों के तहत उठाया गया है, जिसके प्रावधान के मुताबिक यह बता दिया जाता है कि सेवा की कोई जरूरत नहीं रह गई है। गौरतलब है कि नौसेना में नाविक के पद पर सिर्फ पुरुषों की नियुक्ति होती रही है। 

ये भी पढ़ें- ट्रांसजेंडर ने की शादी, माॅ बनकर समाज में फैली भ्रांतियां दूर करूंगी

नौसेना को पहली बार ऐसे केस का सामना करना पड़ा है। एक अधिकारी ने बताया कि मनीष शादी शुदा हैं और एक बच्चे के पिता हैं। सात साल पहले वह नेवी की मैकेनिकल इंजीनयरिंग विंग में शामिल हुए थे।

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : soldiers become gender change woman

जरूर देखिये