सांसद का छलका दर्द, मोदी सरकार में सांसदों को इतना काम दिया जा रहा है कि वे मर जाएं

Reported By: Pankaj Gupta, Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 13 Aug 2019 07:49 AM, Updated On 13 Aug 2019 07:49 AM

नरसिंहपुर। गाडरवारा में बीजेपी राज्यसभा सांसद ने 370 को पूर्व प्रधानमंत्री पंडित नेहरू की सबसे भी भूल करार देते हुए संयुक्त राष्ट्र में मुद्दा ले जाने पर कांग्रेस से जबाब मांगा। वहीं कांग्रेस के शासनकाल में सांसदों की कार्यशैली के बहाने मोदी सरकार में काम के दबाब का दर्द भी बयाँ करते दिखे और कहा कि हमें ​इतना काम दिया जा रहा है कि मर जाएं।

read more : इन दो जाबाज बच्चों ने दंगे में फंसे ट्रेन यात्रियों को पहुंचाया था खाना, राष्ट्रपति के बाद अब सीएम करेंगे सम्मान

नरसिंहपुर के गाडरवारा में बीजेपी सदस्यता अभियान कार्यक्रम के उपरांत राज्यसभा सांसद कैलाश सोनी और होशंगाबाद सांसद उदय प्रताप ने संयुक्त प्रेसवार्ता करते हुए मीडिया से रूबरू होते हुए कश्मीर में धारा 370 के हटाये जाने पर कांग्रेस के विरोध को आड़े हाथों लिया। राज्यसभा सांसद कैलाश सोनी ने पण्डित नेहरू की स्वतंत्रता के बाद की सबसे बड़ी गलती करार देते हुए कहा कि 370 लगाना ही सबसे भी भूल थी। साथ ही नेहरू द्वारा संयुक्त राष्ट्र में इस मुद्दे को उठाने पर कांग्रेस से जबाब मांगा।

read more : एक और सांसद का विवादित बयान, कहा- 100वें स्वतंत्रता दिवस पर भारत का हिस्सा नहीं होगा कश्मीर

वहीं राज्यसभा सांसद का मोदी सरकार में काम के दबाब को लेकर मीडिया के सामने दर्द भी झलक उठा और कांग्रेस सरकार में सांसदों के कार्यक्षमता का बहाना लेते हुए कहा कि एक सांसद को कैसा होना चाहिए इस पर हमे डेढ़ डेढ़ घंटे प्रशिक्षण दिया जाता है। केंद्र की सरकार एक सौ करोड़ से ज्यादा भत्ता बन्द कर रही है और कोई होता तो सांसद बगावत कर देते। उन्होने कहा कि रेल टिकिट में छूट की भी विजलेंस जांच कर रही है, कि कितना नियमानुसार खर्च किया है। वहीं सांसदों को इतना काम सौंप रहें हैं कि ये मर जाये। झंडा दौड़ाओ, गांव जाओ, पौधे लगाओ, यह सब देशहित और जनहित में कर रहे हैं।

read more : दिल्ली एयरपोर्ट पर बम की सूचना, सुरक्षा एजेंसियों ने स्वतंत्रता दिवस पर आतं​की हमले को लेकर किया था अलर्ट

वही होशंगाबाद सांसद उदय प्रताप ने मोदी सरकार के निर्णय पर गर्व करते हुए कहा कि 370 हटाने के फैसले का दिन उनके जीवन का ऐतिहासिक लम्हा था मोदी सरकार देशहित में हर कठोर निर्णय समय समय पर लेती रहेगी।

Web Title : Spoke of MP, MPs are being given so much work that they die

जरूर देखिये