प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता तिवारी ने कहा- मुझ पर प्रतिबंध की मांग प्रदर्शित करती है बीजेपी की हताशा

 Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 24 Apr 2019 08:59 PM, Updated On 24 Apr 2019 08:59 PM

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने छत्तीसगढ़ भाजपा के मीडिया विभाग प्रभारी नलिनीश ठोकने द्वारा समस्त मीडिया चैनलों के प्रबंधकों को पत्र लिखकर उन्हें प्रतिबंधित करने की मांग को राजनैतिक विद्ववेष की भावना से प्रेरित बताया है।

एक बयान में तिवारी ने कहा है कि पूर्व में भी प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता द्वारा ऐसे ही टीवी चैनल के डिबेट में कही गई बातों को लेकर उन्हें वर्ष 2017 में आईपीसी की धारा 499/500 के तहत नोटिस भेज कर माफी मांगने या 50 लाख रूपया के मानहानि का मुकदमा दर्ज करने का पत्र भाजपा के विधी प्रकोष्ठ के वकील मनोज छाबड़ा की मार्फत भिजवाया गया था।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि भाजपा का मीडिया विभाग 23 अप्रैल 2019 की जिस परिचर्चा (डिबेट) में उन पर अशोभनीय भाषा का प्रयोग करने का झूठा आरोप लगाते हुए प्रतिबंध लगाने की मांग कर रहा है, उस परिचर्चा में ऐसी किसी भी भाषा का प्रयोग ही नहीं किया गया है, बल्कि पूरे तथ्यात्मक एवं दस्तावेजी प्रमाण के आधार पर जवाब दिया गया। सच्चाई के उजागर होने पर भाजपा के प्रवक्ता तिलमिला गए और बौखलाकर भाजपा के मीडिया प्रभारी से विभिन्न चैनलों में कांग्रेस प्रवक्ता को प्रतिबंधित करने का लिखवाया गया है।

तिवारी ने कहा कि भाजपा को सबसे पहले अपने गिरेबान में झांक कर देखना चाहिये जो अपने प्रवक्ताओं द्वारा लगातार यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी एवं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के खिलाफ अपशब्दो एवं अर्नगल भाषा का प्रयोग परिचर्चा के दौरान करती है। किस हक से भाजपा टीवी चैनलो के प्रंबधको को पत्र लिखकर प्रतिबंधित करने की मांग की है? प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा है कि जिस टीवी डिबेट पर अशोभनीय भाषा कहने पर आरोप लगा रही है। उसके फुटेज की जांच की जाए तो दूध का दूध और पानी का पानी हो जायेगा।

यह भी पढ़ें : सरगुजा यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ रोहिणी प्रसाद बने आईसीएसएसआर की सलाहकार कमेटी के सदस्य 

उन्होंने कहा कि उनके द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के दामाद डॉ. पुनीत गुप्ता द्वारा डीकेएस अस्पताल में करोड़ो रूपए के अनियमितताओं के जांच की शिकायत एवं पूर्व ओएसडी अरूण बिसेन की पत्नि को दिये जा रहे लाखों रूपये के वेतन के जांच के लिए लिखे गए पत्र से तिलमिला कर भाजपा द्वारा मुझ पर अर्नगल तथ्यहीन एवं मनगढ़ंत आरोप लगाकर प्रदेश के प्रतिष्ठित न्यूज चैनलो के प्रतिबंध लगाने की मांग सुनियोजित साजिश के तहत की गई है। इस प्रकार की मांग भाजपा की हताशा को प्रदर्शित करती है। विकास तिवारी ने कहा कि मैं ऐसी साजिशों से मैं घबराता नहीं हूं और भविष्य में भी मेरे द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह एवं उनके सरकार के घोटालों को उजागर करने का काम अनवरत किया जायेगा। भाजपा की ऐसी मांग से मैं भयभीत होने वाला नहीं हूं।

Web Title : State Congress spokesperson Tiwari said Demanding ban on me shows BJP's frustration

जरूर देखिये