बाबूलाल गौर का बयान- भाजपा अब कुशाभाऊ वाली पार्टी नहीं रही, वरिष्ठों को किया जाता है नजरअंदाज

Reported By: Aakanksha Sharma, Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 25 Jan 2019 05:13 PM, Updated On 25 Jan 2019 05:15 PM

भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता और बाबूलाल गौर ने एक बार फिर अपने बागी तेवरों से अपनी पार्टी को कटघरे में खड़ा कर दिया है। गौर ने कहा है कि भाजपा अब कुशाभाऊ ठाकरे वाली पार्टी नहीं रही है, जिस पार्टी को कुशाभाऊ ने जीरो से हीरो बनाया, वो ही पार्टी अब वरिष्ठों को नजरअंदाज करती है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि अब यहां पर वरिष्ठों का सम्मान नहीं होता, उन्हें अपमानित किया जाता है।  बाबूलाल गौर ने कहा कि राघवजी, सरताज सिंह और रामकृष्ण कुसमरिया जैसे वरिष्ठ नेताओं को अपमानित किया गया। वहीं गौर ने लोकसभा चुनाव में बीजेपी के लिए अच्छे संकेत ना देते हुए कहा कि विधानसभा चुनाव में भी टिकटों का वितरण सही तरीके से नहीं हुआ था, जिस कारण हार का सामना करना पड़ा।

यह भी पढ़ें : राइस मिलर्स एसोसिएशन ने छत्तीसगढ़ शासन के खिलाफ दायर की अवमानना याचिका, हाईकोर्ट ने मांगा जवाब 

उन्होंने कहा कि अभी लोकसभा चुनाव में समय है, तो आगे-आगे देखिए क्या होता है। बताया जा रहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने गौर से मुलाकात कर उन्हें कांग्रेस की टिकट पर भोपाल से लोकसभा चुनाव का ऑफर दिया था। इसके बाद से ही बीजेपी में हलचल मची हुई है। वहीं गौर लगातार अपनी ही पार्टी को निशाने पर ले रहे हैं।

Web Title : Statement of Babulal Gaur BJP is no longer a party with Kushabhau Thakre

जरूर देखिये