Watch Video: यात्रियों की जान पर बन आई बात, जब उफनती नदी को पार करते बीच पुल पर ही फंस गई बस

Reported By: Sharad Agrawal, Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 14 Aug 2019 09:08 PM, Updated On 14 Aug 2019 09:08 PM

पेंड्रा: इलाके में बुधवार को बारिश का कहर चौतरफा देखने को मिला। राहत की बात यह थी कि बारिश से कोई जनहानि नहीं हुई। लेकिन उस वक्त बस में सवार यात्रियों की सांसे थम गई जब उफनती नदी को पार करते वक्त बस बीच पुल पर ही फंस गई। इस दौरान बस में लगभग 50 से अधिक यात्री सवार थे। हालांकि आधे घंटे तक कड़ी मश्क्कत के बाद स्थानीय लोगों की मदद से सभी यात्रियों को सुरक्षित निकाल लिया गया था और बस को भी पार करा लिया गया।

12 अगस्त को बस में आगजनी के मामले में बड़ा खुलासा, पुलिस ने 3 आरोपियों को किया गिरफ्तार

वहीं, दूसरी ओर अरपा नदी की सहायक नदी फुलवारी नेवरी गांव के पास उफान में आ जाने से मार्ग पूरी तरीके से अवरुद्ध हो गया और नेवरी सहित करीब आधा दर्जन गांव 12 घंटे से भी ज्यादा समय से गौरेला ब्लॉक मुख्यालय से संपर्क से कटे हुए हैं।

Read More: धारा 370 हटाने का समर्थन करने वालों की सूची में एक और कांग्रेस MLA, विनय जायसवाल ने कही ये बात...

तीसरी घटना बिलासपुर से कोरिया जिलों को जोड़ने वाली खंडगवा के पास पढ़ने वाला बरौंधा नदी में पानी उफान पर आ गया जो भी करीब 15 घंटे से अधिक समय से पुल से ऊपर पानी चल रहा है वहीं बगल में बना हुआ नया पुल अब तक कंप्लीट नहीं होने के कारण इस मार्ग पर भी कई घंटों तक पूरी तरीके सेआवागमन प्रभावित रहा। वहीं, एक गम्भीर मरीज को एक चारपाई के कंधे पर उठाकर नदी पार कराया गया।लोग जान जोखिम में डालकर किसी तरह से नदी पार करते रहे।

Read More: अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, अब 23 अगस्त तक होगा ट्रांसफर

वहीं, चौथी घटना मरवाही की है जहाँ चिचगोहना गांव के पास सोन नदी भी उफान पर चल रही है, जिससे करसीवा के पास बने पुल पानी में डूब गया है। हालत पहले से ही काफी खराब बताई जा रही है। फिर भी लोग जान जोखिम में डालकर आवाजाही कर रहे हैं। वहीं, सोन नदी में एक गाय पानी मे बह गई, जिसे तस्वीरों में भी आप देख सकते हैं।

Read More: राज्य प्रशासनिक सेवा के 5 अधिकारियों का तबादला, जानिए किसे कहां मिला नया पदभार

Web Title : stuck Passenger bus wile cross flooded river

जरूर देखिये