जो खेलते थे बारूदों के ढेर ,पुलिस ने मुख्यधारा में जोड़ने से शुरू किया नया अभियान, नवजवानों को सीधे जोड़ने की कवायद

Reported By: Raja Rathore, Edited By: Shahnawaz Sadique

Published on 12 Feb 2019 04:53 PM, Updated On 12 Feb 2019 05:44 PM

सुकमा। जिले के नक्सल प्रभावित गाँव चिंतलनार मे नौजवानों को अपने साथ जोड़ने के लिए पुलिस ने शानदार अभियान चलाया है, यहां बारूदों की ढेर में खेलने वाले युवकों को क्रिकेट के माध्यम से पुलिस अपने साथ जोड़ने जा रही है। इसके लिए नक्सलियों की राजधानी के रूम जाने जाने वाले चिंतलनार गाँव के ग्रामीण और पुलिस ज़िला बल के जवानों द्वारा मैदान को सजाया गया है, और नक्सल प्रभावित पहुँचविहीन गाँव के 16 टीमों को खेलने के लिए बुलाया गया है।

ये भी पढ़ें- "मेरा परिवार बीजेपी परिवार" अभियान की शुरुआत, इंदौर में विजयवर्गीय तो भिलाई में सरोज

बता दें कि इस क्रिकेट टूर्नामेंट के विजेता को 21 हजार और उप विजेता को 15 हज़ार रुपये दिए जाएंगे। स्थानीय पुलिस एंव ग्रामीणों की इस पहल को सुकमा पुलिस कप्तान जितेंद्र शुक्ला ने सराहा है, और हर सम्भव मदद का भरोसा दिलाते हुए प्रत्येक गांव में एक मैदान और खेल सामग्री देने की घोषणा की है, जिसके लिए एसपी जितेंद्र शुक्ला ने स्थानीय लोगों से सहयोग करने की अपील की है। 

Web Title : Sukma Latest News: Police are trying to add local in main stream of society

जरूर देखिये