सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की बायोपिक 'पीएम नरेंद्र मोदी' फिल्म के खिलाफ लगी याचिका,अब आगे चुनाव आयोग पर छोड़ा निर्णय

 Edited By: Renu Nandi

Published on 09 Apr 2019 02:58 PM, Updated On 09 Apr 2019 02:58 PM

मुंबई। सुप्रीम कोर्ट ने विवेक ओबेरॉय स्टारर बायोपिक 'पीएम नरेंद्र मोदी' की रिलीज पर रोक लगाने की याचिका खारिज कर दी। बेंच का कहना है कि सेंसर बोर्ड द्वारा फिल्म को अभी तक सर्टिफिकेट जारी नहीं किया गया है। इसलिए अब चुनाव आयोग को यह तय करना है कि क्या फिल्म आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन कर सकती है।

ज्ञात हो कि याचिकाकर्ता की तरफ से लगाए गए आवेदन में यह कहा गया था कि चुनाव से पहले फिल्म को रिलीज करने से निष्पक्ष और स्वतंत्र चुनाव पर असर पड़ सकता है। मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अभी फिल्म को सेंसर बोर्ड का प्रमाणपत्र नही मिला है।


ये भी पढ़ें -38 देशों में एक साथ रिलीज होगी पीएम मोदी की बायोपिक, डिस्ट्रीब्यूटर ने किया ऐलान

इससे पहले सोमवार को याचिका पर सुनवाई करते हुए शीर्ष अदालत ने याचिकाकर्ता अमन पंवार से कहा था कि पहले वह स्पष्ट करें कि फिल्म मे क्या दिखाया गया है और उन्हें किस बात पर आपत्ति है। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने याचिकाकर्ता से सवाल किया की आप फिल्म देखे बिना कैसे निर्धारित कर सकते हैं कि ये आचार संहिता का उल्लंघन करता है।बता दें कि फिल्म को चुनाव के पहले रिलीज करने को लेकर कई लोगों ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन पर बनी फिल्म को निर्माता संदीप सिंह 11 अप्रैल को रिलीज करना चाहते हैं।

Web Title : Supreme Court dismisses a plea seeking stay on release of Vivek Oberoi starrer biopic 'PM Narendra Modi

जरूर देखिये