संदिग्ध युवक भी अब घोषित किया जा सकता है आतंकी, इधर NIA की बढ़ी जिम्मेदारी

 Edited By: Vivek Mishra

Published on 25 Jun 2019 07:57 AM, Updated On 25 Jun 2019 07:36 AM

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में सोमवार को हुई कैबिनेट की बैठक में NIA और गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम कानून से जुड़े दो संशोधनों को मंजूरी दी गई है।अब आतंकी गतिविधियों में जुड़े संदिग्ध व्यक्तियों को भी आतंकी घोषित कर प्रतिबंधित किया जा सकेगा। कयास लगाए जा रहे है कि इस विधेयक को मॉनसून सत्र के दौरान ही संसद में पेश किया जाएगा।

ये भी पढ़ें: 8 जुलाई तक स्कूल प्रवेश उत्सव का आयोजन, आसपास के बच्चों को खोजकर उन्हें पढ़ाने की पहल

बता दे कि प्रस्तावित संशोधन में NIA को किसी की संदिग्ध गतिविधियों में पाए जाने पर आतंकी घोषित करने का अधिकार मिल जाएगा, और एक बार आतंकी घोषित होने के बाद उस संदिग्ध व्यक्ति से साथ आर्थिक लेन-देन करने वाले लोगों के खिलाफ शिकंजा कसना आसान हो जाएगा। फिलहाल केवल आतंकी गतिविधियों में शामिल संगठनों को ही प्रतिबंधित करने का प्रावधान है।

ये भी पढ़ें: कुपोषण समाप्त करने के लिए सुपोषण अभियान शुरू, यहां दिए गए पौष्टिक आहार

लिहाजा इस संशोधन के तहत NIA को और मजबूत किया जाएगा। इसके साथ ही NIA को साइबर अपराध और मानव तस्करी से जैसे मामलों की जांच के अधिकार भी दिए जाएंगे। गौरतलब है कि अभी तक उसी व्यक्ति को आतंकी मानते थे, जोकि किसी आतंकी संगठन का सदस्य हो।

Web Title : Suspicious youth can now be declared terrorist, here is the increased responsibility of NIA

जरूर देखिये