युवाओं को नौकरी के लिए सीएम की अनूठी पहल, दी जाएगी इस क्षेत्र की जिम्मेदारी

 Edited By: Vivek Mishra

Published on 12 Jun 2019 06:47 AM, Updated On 12 Jun 2019 06:47 AM

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को महानदी भवन में लोक निर्माण विभाग की समीक्षा बैठक ली। इस दौरान उन्होंने कहा कि- प्रदेश के युवाओं को रोजगार देना राज्य सरकार की सबसे अहम प्राथमिकता है। सीएम ने कहा कि बस्तर समेत प्रदेश के सभी नक्सल प्रभावित इलाकों में सड़कों के निर्माण कार्य का जिम्मा वहां के स्थानीय युवकों को दिया जाना चहिए।

ये भी पढ़ें: आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 : टूर्नामेंट का तीसरा मैच चढ़ा बारिश की भेंट, बांग्लादेश और श्रीलंका ने 

सूबे के मुखिया भूपेश बघले ने कहा कि, निर्माणाधीन सड़कों को छोटे-छोटे हिस्सों में बांटकर उस क्षेत्र के युवकों को काम दिया जाए। साथ ही पैंच वर्क या मरम्मत कार्य भी उन्हें ही सौंपे जाए। इसका निरीक्षण विभाग के अभियंता और अन्य तकनीकी अधिकारियों द्वारा किया जाए। इससे स्थानीय युवकों को स्वरोजगार मिलेगा, उनकी आय बढ़ेगी और वे मुख्यधारा से जुड़ेगें।

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ को केंद्र का ई-पंचायत पुरस्कार, पंचायतों के सशक्तिकरण के लिए 

समीक्षा बैठक के दौरान सीएम ने कहा कि सड़क दुर्घटना कम करने के लिए रायपुर और दुर्ग के मध्य यातायात के दबाव को कम करने के लिए ट्रांसपोर्ट नगर टाटीबंध और चरौदा-भिलाई के मध्य एक समानांतर सड़क बनाई जाए। साथ ही सीएम ने विभागीय अधिकारियों को नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में निर्माण के लिए निर्धारित शर्तों में आवश्यक संशोधन का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए।

Web Title : The unique initiative of the CM for the job of youth will be given, responsibility of this area

जरूर देखिये