धमतरी के डाकेश का कमाल, बैटरी से चलने वाली बनाई साइकिल, बिना पैडल के 45 किमी/घंटे की रफ्तार से चलती है

 Edited By: Abhishek Mishra

Published on 09 Jun 2019 03:14 PM, Updated On 09 Jun 2019 03:04 PM

धमतरी। छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले के वनांचल इलाके में रहने वाले 12वीं पास युवक डाकेश ने बैटरी और मोटर से चलने वाली साइकिल बनाई है, जिसकी हर तरफ तारीफ हो रही है। डाकेश के इस कारनामे से आदिवासी अंचल के युवाओं को नई प्रेरणा मिली है।

पढ़ें- अवैध प्लाटिंग करने वाले 7 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज, सरकारी जमीन पर कब्जा कर कई लोगों को बेच द...

दअरसल नगरी ब्लॉक के ग्राम छिपली के रहने वाले डाकेश साहू पढ़ाई के साथ हालर मिल भी चलाता है और मशीनों के काम से उनका बेहद लगाव है। 12वीं के बाद इस युवा के मन में बिना पैडल मारे साइकिल चलाने की ललक पैदा हुई। फिर इसी ललक की वजह से साइकिल में एक हजार वाट की मोटर लगाकर दो बैटरी के सहारे 48 वोल्ट की विद्युत सप्लाई की फिर देखते ही देखते उनकी साइकिल बिना पैडल मारे 45 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से सड़क पर दौड़ने लगी।

पढ़ें- तोड़ूदस्ता ने तोड़ा बुजुर्ग का घर, विरोध में महिला ने केरोसीन पीकर ...

इस साइकिल की बैटरी को एक बार फूल चार्ज करना पड़ता है फिर ये साइकिल 30 किमी आराम से चलती है और इस साइकिल से पेट्रोल की भी बचत होती है और पर्यावरण को भी कोई नुकसान क्षति नहीं पहुंचता है।

 

Web Title : The young man made a battery-driven cycle

जरूर देखिये