Those who did not see the Lok Sabha, they were blaming me - yashwant sinha | जेटली पर यशवंत का पलटवार, जिन्होंने लोकसभा की शक्ल नहीं देखी वे मुझ पर आरोप लगा रहे

जेटली पर यशवंत का पलटवार, जिन्होंने लोकसभा की शक्ल नहीं देखी वे मुझ पर आरोप लगा रहे

Reported By: Aman Verma, Edited By: Aman Verma

Published on 29 Sep 2017 01:39 PM, Updated On 29 Sep 2017 01:39 PM

पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा के एक लेख से उपजा विचारों का मतभेद, व्यक्तिगत हमलों से वाकयुद्ध में बदलता दिख रहा है। केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने गुरूवार को बिना नाम लिए यशवंत पर निशाना साधा, उन्होंने कहा कुछ लोग 80 साल की उम्र में नौकरी के आवेदक बनना चाहते है। जिस पर यशवंत सिन्हा ने तीखा पलटवार करते हुए कहा अगर में नौकरी का आवेदक होता तो शायद वो पहले नंबर पर ना होते।

बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा बोले, अरूण जेटली भारतीयों को गरीब बनाने पर तुले

सिन्हा ने आगे कहा कि मैंने राजनीति में आने के बाद अपनी लोकसभा सीट चुनने में 25 साल नहीं लगे थे। यशवंत ने कहा कि जिन्होंने लोकसभा की शक्ल नहीं देखी, वो मुझ पर आरोप लगा रहे हैं। मैंने किसी पर व्यक्तिगत टिप्पणी नहीं की थी। उन्होंने जेटली पर कालेधन और पनामा मामले में जनता को गुमराह करने का भी आरोप लगाया।  

 

ऐसे उपजा पूरा विवाद.....

पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने एक अंग्रेजी अखबार में लेख लिखा जिसमें उन्होंने लिखा की पहले नोटबंदी और फिर जीएसटी ने अर्थव्यवस्था को नुकसान पहंुचाया है। जेटली देश की जनता को गरीब बनाने पर तुले हैं। जिसका जवाब उनके बेटे और सरकार में मंत्री जयंत सिन्हा ने दिया।

अर्थव्यवस्था पर अपनी ही सरकार को घेरने वाले यशवंत सिन्हा को बेटे जयंत का जवाब

जिसपर यशवंत ने कहा यदि मेरे खिलाफ बोलने के लिए मेरे बेटे पर दबाव बनाया गया तो यह गलत चाल है। फिर जेटली ने गुरूवार को यशवंत पर हमला बोलते हुए उन्हे नौकरी की तलाश करने वाला बताया। अब यशवंत ने जेटली की दुखती रग लोकसभा चुनाव की हार का जिक्रकर कर विवाद को आगे ले जाने का मन बना लिया है। इसका मतलब है कि यह विवाद अभी थमने वाला नहीं अब देखने वाली बात यह होगी की जेटली इसका जवाब देने कब सामने आते है। 

Web Title : Those who did not see the Lok Sabha, they were blaming me - yashwant sinha

जरूर देखिये