TI Misbehave with Lady SI | अवैध रेत परिवहन कर रहे डंपरों को महिला SI ने पकड़ा, छुड़ाने आ पहुंचे TI, मना करने पर महिला से की बदतमीजी

अवैध रेत परिवहन कर रहे डंपरों को महिला SI ने पकड़ा, छुड़ाने आ पहुंचे TI, मना करने पर महिला से की बदतमीजी

Reported By: Ravihemraj Sisodiya, Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 10 Sep 2019 11:26 PM, Updated On 10 Sep 2019 11:04 PM

कटनी: मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार के दावों के बावजूद रेत का खेल रुकने का नाम नहीं ले रहा है । रेत के खेल में पुलिस की मिलीभगत के मामले उजागर हो रहे हैं। जबलपुर शहर में एसडीओपी एसएन पाठक का रेत के मामले रिश्वत लेते हुए वीडियो वायरल का मामले की चर्चाओं का बाजार ठंडा भी नहीं हुआ था, कि कटनी पुलिस फिर एक बार रेत के मामलों में सुर्खियों में नजर आने लगी है।

Read More: ट्रक मालिक ने भरा अब तक का सबसे बड़ा चालान, ओवर लोडिंग के चलते चुकाया 1,41,700 रूपए

मामला कटनी जिले से सामने आया है। जहां बरही थाना की एक महिला एसआई ने रेत परिवहन करते हुए एक ओवरलोड डंपर को पकड़ा था। मामले की जानकारी होने पर थाने के टीआई मौके पर आ पहुंचे और डंपरों को छोड़ने को कहने लगे। लेकिन जब महिला एसआई ने डंपरों को छोड़ने से मना किया तो वे अभद्रता पर उतारू हो गए और बदतमीजी करने लगे। हालात को देखते हुए महिला एसआई को रात को ही अपने बचाव के लिए एसडीओपी, एसपी, डीआईजी समेत आईजी को भी खबर करनी पड़ी।

Read More: ट्रैफिक क्लीयर कराने सड़कों पर उतर आए उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी, ट्रैफिक पुलिस बन वाहनों को कराया पास

महिला एसआई मीनाक्षी पेन्द्रे ने बरही थाना के ही टीआई एनके पांडे पर आरोप लगाते हुए कहा है कि उन्होंने सोमवार की रात्रि गस्त के दौरान पांच ट्रक अवैध रेत परिवहन करते हुए पकड़े थे। मामले की जानकारी होने पर टीआई पांडे मौके पर आ पहुंचे और ट्रकों को छोड़ने की बात कही। मैंने जब मना किया तो वे मेरे साथ बदतमीजी करने लगे। इसके बाद मैने विभाग के आला अधिकारियों को सूचना दी।

Read More: UNHRC में पाकिस्तान को भारत का करारा जवाब, कहा- दुनिया जानती है आतंकियों के पनाहगार सुनाते हैं फर्जी 

मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला एसपी ने तहसीलदार और पुलिस भेजा। इसके बाद जब्त किए डंपरों के खिलाफ कार्रवाई की गई। लेकिन इसी दौरान टीआई पांडे ने पकड़े गए ट्रकों के ड्राइवरों को मौके से गायब कर दिया। इसके पूर्व ड्राइवरों को सिखाया गया कि वह अधिकारी के सामने यह बोले कि महिला एसआई एक एक हजार रूपए की मांग कर रही थी। हालांकि टीआई अपने बचाव में एसआई को ही दोषी बता रहे हैं।

Read More: उफनती नदी ने रोका संजीवनी एक्सप्रेस का रास्ता, संवेदनशीलता दिखाते हुए टेक्निकल स्टॉफ ने बीच जंगल में कराया प्रसव

Web Title : TI Misbehave with Lady SI

जरूर देखिये