गोलीकांड के विरोध में आ​दिवासियों ने किया थाने का घेराव, डीएफओ सहित तीन का तबादला लेकिन एफआईआर दर्ज करने की मांग

Reported By: Dilip Bunty Nagori, Edited By: Anil Kumar Shukla

Published on 23 Jul 2019 07:15 AM, Updated On 23 Jul 2019 07:15 AM

बुरहानपुर। बदनापुर वनपरिक्षेत्र में हुए गोलीकांड के विरोध में आदिवासी समाज के लोगों ने सोमवार दोपहर से तो मंगलवार आज सुबह तक नेपानगर थाने का घेराव कर रखा है। थाने के गेट के बाहर रातभर आदिवासी समाज के लोग नाच गाकर अपना विरोध दर्ज करवा रहे हैं। थाने के घेराव और धरने को 20 घण्टे से अधिक का समय हो चुका है लेकिन मामला आदिवासी समाज से जुड़ा होने से पुलिस भी थाने का घेराव करने वाले लोगों पर कार्यवाही करने से बच रही है।

read more: बिना ढक्कन की बोतल में पेट्रोल ले जाते वक्त युवक ने जला ली बिड़ी, फिर...

वही आदिवासियों के उग्र रूप को देखते हुए कमलनाथ सरकार ने तत्काल प्रभाव से सोमवार रात को ही वन विभाग के डीएफओ सुधांशु यादव सहित नेपानगर के एसडीओ बी.के.शुक्ला और रेंजर राजेश रंधावा के तबादले का आदेश जारी कर दिया है। लेकिन आदिवासी समाज के लोग वन विभाग के अधिकारियों पर एफआईआर करने की मांग पर अड़े हुए हैं ।

read more: पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से की सौजन्य मुलाकात

दरअसल बदनापुर वनपरिक्षेत्र में 9 जुलाई को अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही के दौरान प्रशासनिक अमले और आदिवासियों के बीच जमकर विवाद हुआ था। इस दौरान वन विभाग के अमले ने फ़ायरिग की थी जिसमें बंदूक के छर्रे लगने से 5 आदिवासी घायल हुए थे। वहीं इस दौरान वनविभाग के एसडीओ सहित चार वनकर्मी भी जख्मी हुए थे जिसके बाद से इस मामले ने तूल पकड़कर रखा है।

Web Title : tribal protested against the shooting, the encroachment of the police station

जरूर देखिये