सीडी कांड केस में गिरफ्तार पत्रकार विनोद वर्मा को 14 दिन की न्यायिक रिमांड

Reported By: Pushpraj Sisodiya, Edited By: Pushpraj Sisodiya

Published on 31 Oct 2017 12:43 PM, Updated On 31 Oct 2017 12:43 PM

छत्तीसगढ़ के कथित सीडी कांड मामले में गिरफ्तार पत्रकार विनोद वर्मा को पुलिस ने रिमांड खत्म होने पर कोर्ट में पेश किया. जहां कोर्ट ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक रिमांड पर भेज दिया है. 

ये भी पढ़ें- IBC24 पर सेक्स सीडी के सच का बड़ा ख़ुलासा

पुलिस ने पूछताछ के बारे में कुछ भी बताने से मना कर दिया है. इधर अजीत जोगी ने सीडी कांड को भाजपा का अंदरुनी का राजनीति करार का नतीजा बताया है. तो बीजेपी ने आक्रामक जवाब देने की रणनीति बनाई है.

क्या है पूरा मामला?

अवैध वसूली और धमकी देने के आरोप में पत्रकार विनोद वर्मा को दिल्ली के इंदिरापुरम से गिरफ्तार किया गया है. रायपुर के बीजेपी नेता प्रकाश बजाज ने उनके खिलाफ धमकी देने का आरोप दर्ज कराया था. शिकायत के मुताबिक विनोद वर्मा ने छत्तीसगढ़ के मंत्री का सेक्स सीडी होने का दावा किया था. 

विनोद वर्मा ने सेक्स सीडी में मंत्री राजेश मूणत का बताया था जिस पर IBC24 ने बड़ी निर्भयता और स्वतंत्र पत्रकारिता करते हुए सीडी पर बड़ा खुलासा किया था. सीडी को एडिट कर राजेश मूणत को बदनाम करने की साजिश की गई थी.

सीडी पूरी तरह डूप्लीकेट थी. ऑरिजनल सीडी में दूसरा शख्स था जिसे आधुनिक तकनीक जिसे रोटोस्कोपी कहते हैं, उससे हूबहू कॉपी किया गया था. कमरों की चीजों, सामना, गद्दा, तकिया, आइना सब, एक सा रखा गया था. पूरी राजनीतिक साजिश के तहत इस वीडियो को बनाकर राजेश मूणत को बदनाम करने की साजिश की गई थी, जिसे IBC24 ने भंडाफोड़ किया था.

 

वेब डेस्क, IBC24

  

 

 

Web Title : Vinod Verma's remand ends, Present in court

जरूर देखिये