तीन लोकसभा सीट पर वोटिंग गुरुवार को, सुरक्षा व्यवस्था बड़ी चुनौती, अतिसंवेदनशील मतदान केंद्रों में ड्रोन और हेलीकॉप्टर से निगरानी

Reported By: Rajesh Mishra, Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 17 Apr 2019 05:32 PM, Updated On 17 Apr 2019 05:25 PM

रायपुर। छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव के दौरान वीआईपी के दौरों और नक्सल प्रभावित 3 लोकसभा में वोटिंग को लेकर सुरक्षा व्यवस्था पुलिस की बड़ी चुनौती बनी हुई है। 18, 19 और 20 अप्रैल को कांग्रेस और भाजपा के स्टार प्रचारक अपने-अपने पार्टी के प्रत्याशियों के प्रचार के लिए छत्तीसगढ़ के दौरे पर रहेंगे।

18 अप्रैल को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह रायगढ़, बिलासपुर और तखतपुर में चुनावी सभा को संबोधित करेंगे। अगले दिन 19 अप्रैल को केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी पत्थलगांव और शिवरीनारायण में और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 20 अप्रैल को बलरामपुर के शंकरगढ़, विश्रामपुर और धरसीवा के कुरा में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी के पक्ष में चुनावी सभा लेंगे। जबकि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी भी 20 तारीख को सक्ती और बिलाईगढ़ में चुनावी सभा को संबोधित करेंगे। चुनावी सभा मे इनकी सुरक्षा के साथ साथ छत्तीसगढ़ पुलिस को नक्सल प्रभावित इलाकों राजनांदगांव, कांकेर और महासमुंद में वोटिंग भी करवाना है।

यह भी पढ़ें : नमो टीवी पर लाइव कवरेज से हटा बैन, बायोपिक 'पीएम नरेंद्र मोदी' की स्क्रीनिंग जारी, 7 चुनाव अधिकारी देखकर देंगे निर्णय 

द्वितीय चरण के चुनाव के लिए राजनांदगांव, कांकेर और महासमुंद के नक्सल प्रभावित अतिसंवेदनशील मतदान केंद्रों में ड्रोन और हेलीकॉप्टर से निगरानी रखी जा रही है। DGP डीएम अवस्थी ने पुलिस और फोर्स को लैंड माइंस से संभल कर रहने की हिदायत दी है। ऐसी आशंका व्यक्त की जा रही है कि नक्सली इन इलाकों में भी IED विस्फोट कर बड़ा हमला कर सकते है।

Web Title : Voting on three Lok Sabha seats on Thursday

जरूर देखिये