सर्व आदिवासी समाज की चेतावनी मांगे नहीं मानी तो अलग बस्तर ही एकमात्र विकल्प

Reported By: Aman Verma, Edited By: Aman Verma

Published on 20 Sep 2017 11:55 AM, Updated On 20 Sep 2017 11:55 AM

 

मंगलवार दोपहर सर्व आदिवासी समाज और प्रशासनिक अमले के बीच बैठकों का दौर चला। जिसके बाद आदिवासी समाज के नेताओं ने बैठक को प्रशासान की सकारात्मक पहल बताते हुए कहा की यह तो अच्छा है कि समाज के लोगों के बुलाकर बैठक का आयोजन किया गया। लेकिन यदि हमारी मांगे नहीं मानी गई तो आर्थिक नाकेबंदी और फिर अलग बस्तर राज्य की मांग ही एकमात्र विकल्प बचेगा। वैसे बैठक में मौजूद अधिक्तर नेताओं ने प्रशासन की पहल पर संतोष जाहिर करते हुए कहा की यह पहली बार है जब समाज के लोगों को बुलाकर चर्चा की गई। इससे पहले तो प्रशासन सदैव बातचीत से भागता रहता था। 

Web Title : Warning of all tribal society, If you do not accept the demand, separate Bastar is the only option.

जरूर देखिये