लघु फिल्मोत्सव में फिल्में देख पंचायत जनप्रतिनिधि हुए जागरूक

Reported By: Renu Nandi, Edited By: Renu Nandi

Published on 22 Jan 2018 01:26 PM, Updated On 22 Jan 2018 01:26 PM

हमर छत्तीसगढ़ योजना में अध्ययन भ्रमण पर आए पंचायत प्रतिनिधियों ने यहां साइंस कॉलेज परिसर स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय प्रेक्षागृह में चल रहे फिल्मोत्सव में लघु फिल्में देखी। इस राष्ट्रीय लघु फिल्मोत्सव का आयोजन राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण और जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा किया गया है। फिल्म समारोह में विधिक जागरूकता पर आधारित चुनिंदा फिल्मों का प्रदर्शन किया जा रहा है।

ये भी पढ़े - छत्तीसगढ़ का ऐसा गांव जिसने आज़ादी के बाद पहली बार देखा कलेक्टर ?

 

तीन जिलों के 534 पंच-सरपंचों ने यहां लघु फिल्में एवं वृत्तचित्र देखी। इनमें राजनांदगांव जिले के 205, बिलासपुर के 198 तथा बेमेतरा के 131 पंचायत प्रतिनिधि शामिल थे। जनप्रतिनिधियों ने फिल्मोत्सव में विभिन्न कानूनों की जानकारी देने वाली फिल्में खुशी, नन्ही परी, सावधान आदिवासी, चुप-चुप रहती बेटी एवं बेटी बचाओ जैसी अनेक लघु फिल्में देखी।  इसके साथ ही लोक निर्माण, परिवहन, आवास एवं पर्यावरण विभाग के संसदीय सचिव तथा तखतपुर के विधायक श्री राजू सिंह क्षत्री ने अध्ययन भ्रमण पर आए बिलासपुर के पंचायत प्रतिनिधियों से सौजन्य मुलाकात की। संसदीय सचिव श्री क्षत्री पंच-सरपंचों के विधानसभा भ्रमण के दौरान वहां पहुंचे और उनसे मिलकर उनका हाल-चाल जाना। उन्होंने पंचायत प्रतिनिधियों से गांवों में चल रहे विकास कार्यों की भी जानकारी ली।

 

संसदीय सचिव श्री राजू सिंह क्षत्री ने पंच-सरपंचों को विधानसभा की व्यवस्था, कार्यों एवं सदन की कार्यवाही के बारे में बताया। उन्होंने जानकारी दी कि किस तरह सभी विधायक राज्य के बजट एवं विकास योजनाओं पर यहां चर्चा करते हैं। श्री क्षत्री ने हमर छत्तीसगढ़ योजना में अध्ययन प्रवास पर आने के लिए सभी पंचायत प्रतिनिधियों को धन्यवाद दिया। विधानसभा परिसर में पंचायत प्रतिनिधियों ने सेंट्रल हॉल, पुस्तकालय, समिति कक्ष और विधानसभा का सदन देखा। विधानसभा के अधिकारियों ने उन्हें संसदीय व्यवस्था एवं सदन के संचालन के बारे में विस्तार से बताया। हमर छत्तीसगढ़ योजना के तहत बिलासपुर जिले के 198 पंच-सरपंच अध्ययन भ्रमण पर रायपुर आए हुए थे।

वेब टीम IBC24 

Web Title : Watching the films in the small film festival organized by the Panchayat Public Representative

जरूर देखिये