दिल्ली में बांटे गए पर्चे की क्या है सच्चाई? डिप्टी सीएम ने कहा- मुझे देना है मानहानि का नोटिस

 Edited By: Vivek Mishra

Published on 10 May 2019 11:07 AM, Updated On 10 May 2019 11:07 AM

नई दिल्ली। पूर्वी दिल्ली से भाजपा उम्मीदवार गौतम गंभीर ने आप प्रत्याशी आतिशी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया को नोटिस भेजने के और उनसे माफी मांगने के मामले में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि अपमानजनक टिप्पणी की गई है, हम बदनाम हो रहे हैं, और बीजेपी कह रही है कि, वे हमारे खिलाफ मानहानि का केस दर्ज करेंगे।

ये भी पढ़ें: भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग को मिली 150 साल पुरानी गोंडोला नाव

इसके साथ डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ये भी कहा कि, वे आज मानहानि का नोटिस भेजने वाले हैं। वहीं पिछले दो दिन लगातार इस मामले में सियासत बढ़ती जा रही है, एक ओर जहां गौतम गंभीर ने कहा है कि वे ऐसा कभी नहीं कर सकते हैं, साथ ही कहा इसकी जांच होनी चहिए, उन्होंने कहा कि अगर वे दोषी पाएं गए तो अपना नामांकन निरस्त करने की बात कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर आप का कहना है बीजेपी ने हमें बदनाम किया है।


ये भी पढ़ें: मतगणना को लेकर सभी राज्यों के मुख्य निर्वाचन अधिकारियों को निर्देश, ज्यादा से ज्यादा VVPAT 

बता दे कि, गुरुवार को आप नेता आतिशी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि गौतम गंभीर की ओर से बांटे गए पर्चों में उनके परिवार के बारें में अभद्र बातें लिखी गई हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि, इस पर्चे में सीएम अरविंद केजरीवाल को लेकर भी गलत शब्द लिखे गए हैं।

 

Web Title : What is the truth of the prescription distributed in Delhi? Deputy CM said - I have to give notice of defamation

जरूर देखिये