सफेद बाघ की मौत का मामला, सेंट्रल जू अथॉरिटी ने वन विभाग से मांगी रिपोर्ट

Reported By: Manoj Singh, Edited By: Abhishek Mishra

Published on 10 Jan 2019 02:03 PM, Updated On 10 Jan 2019 02:03 PM

बिलासपुर। बिलासपुर के कानन पेंडारी में सफेद बाघ की मौत के मामले में सेंट्रल जू अथॉरिटी ने छत्तीसगढ़ वन विभाग से रिपोर्ट मांगी है। जू अथॉरिटी आफ इंडिया ने PCCF छत्तीसगढ़ के साथ ही वाइल्ड लाइफ इंडिया को भी चिट्ठी लिखी है। वहीं एक बात ये भी सामने आई है कि कानन प्रबंधन ने बाघ की मौत की जानकारी निगरानी समिति को भी नहीं दी।

पढ़ें- विधानसभा में सीएजी की रिपोर्ट पेश, जोगी कांग्रेस के विधायक देवव्रत ने उठाया शराबबंदी का मुद्दा

सफेद बाघ की मौत के मामले में सीजेडए के मेंबर सेक्रेटरी डॉ. अनूप नायक ने पीसीसीएफ को पत्र लिखकर रिपोर्ट मांगने के साथ ही ये भी कहा है कि कानन पेंडारी के लिए पूर्णकालिक सक्षम अधिकारी की भी नियुक्ति करे ताकि कानन पेंडारी की देखरेख अच्छी तरह से हो सके। सेंट्रल जू अथारिटी ने सख्त शब्दों में कहा है कि चिड़ियाघर में लापरवाही किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं है और गलती मिलने पर किसी भी बख्शा नहीं जाएगा। आपको बता दें कि बिलासपुर के कानन पेंडारी मे 27 दिसंबर को सफेद बाघ की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। पिछले हफ्ते वनमंत्री मोहम्मद अकबर खुद इस मामले की जांच के लिए कानन पेंडारी पहुंचे थे।

Web Title : White Tiger Death Case

जरूर देखिये