विश्व होम्योपैथी दिवस: होम्योपैथी से रहें निरोग

Reported By: Shalini Hardia, Edited By: Renu Nandi

Published on 10 Apr 2019 05:05 PM, Updated On 10 Apr 2019 05:05 PM

सेहत डेस्क। होम्योपैथी में वैसे तो एलोपेथी की तुलना में स्लो इलाज होता है लेकिन इससे ऐसी बहुत सी बीमारियां है जिन्हे जड़ से खत्म किया जा सकता है। आइये जानते हैं कौन-कौन से रोग होम्योपैथी से दूर हो सकते हैं। टॉन्सिल्स, पथरी, एसिडिटी, पाइल्स का इलाज संभव है।इसके साथ ही होम्योपैथी दवा से 10mm तक की पथरी आसानी निकल सकती है।
अप्लास्टिक एनीमिया से मिलेगी मुक्ति मिलती है। बता दें कि अप्लास्टिक एनीमिया रक्त संबंधी एक गंभीर रोग है। जिसके चलते बोन मैरो काम करना कम कर देता है या बंद कर देता है। मरीज में खून की कमी हो जाती है। आपको बता दें कि होम्योपैथी इलाज से अप्लास्टिक एनीमिया जैसा गंभीर रोग भी दूर हो सकता है। इसके साथ ही पेनसाइटोपेनिया, आईटीपी और एमडीएस रोग, प्लेटलेट्स की समसया दूर हो सकती हैं। प्रोस्टेट की समस्या दूर हो सकती है। ज्वाइंट पेन की समस्या दूर हो सकती है.अस्थमा, आर्थराटिस, सोरायसिस से पा सकते हैं निजात,सर्दी, जुकाम, खांसी से लेकर डेंगू, स्वाइन फ्लू, कैंसर, चिकनगुनिया में होम्योपैथी कारगर साबित होता है।


इन बातों का रखें ध्यान
- एलोपैथी दवा के साथ ली जा सकती है होम्योपैथी दवा
- कोई दवा पहले से चल रही हो और आपने होम्योपैथी दवा लेना शुरू किया है, तो बिना डॉक्टरी सलाह के पहले से चल रही दवा को बंद न करें
- पहले से चल रही दवाएं डॉक्टर की सलाह के बाद ही बंद करें
- होम्योपैथी से बीपी या डायबिटीज का इलाज करा रहे लोगों की कुछ दिनों बाद एलोपैथी दवा बंद हो जाती है। -
पेन किलर्स के सेवन से बचें।
- एंटी एलर्जिक दवाओं से बचें।
- बार-बार कोई रोग हो जाता हो होम्योपैथी इलाज बेहतर
होम्योपैथी से इलाज
- बच्चों की इम्यूनिटी मजबूत हो सकती है
- बच्चों का कॉन्संट्रेशन बढ़ सकता है
- डिप्रेशन दूर हो सकता है

Web Title : World Homeopathy Day Special

जरूर देखिये