बारिश से मैचों में खलल खीझ पैदा करने वाला, स्टेडियमों पर छत अच्छा विकल्प : गिल |

बारिश से मैचों में खलल खीझ पैदा करने वाला, स्टेडियमों पर छत अच्छा विकल्प : गिल

बारिश से मैचों में खलल खीझ पैदा करने वाला, स्टेडियमों पर छत अच्छा विकल्प : गिल

: , November 29, 2022 / 08:35 PM IST

हैमिल्टन, 27 नवंबर (भाषा) भारत के युवा सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल का मानना ​​है कि बारिश के कारण मैचों के प्रभावित होने से खिलाड़ी और दर्शक दोनों परेशान होते हैं और इसलिए बंद छत वाले स्टेडियम अच्छा विकल्प हो सकते हैं।

भारत के न्यूजीलैंड दौरे में टी20 और वनडे श्रृंखला बारिश से प्रभावित रही है। इस दौरे के छह मैचों में से अभी तक दो मैच (पहला टी20 और दूसरा वनडे) बारिश के कारण रद्द करने पड़े जबकि एक मैच (नेपियर टी20) का फैसला डकवर्थ लुईस पद्धति से हुआ था।

पहले वनडे में 50 रन बनाने वाले गिल ने दूसरा वनडे बारिश के कारण रद्द किए जाने तक नाबाद 45 रन बनाए थे। उन्होंने कहा कि बारिश से मैचों के प्रभावित होने से खीझ पैदा होती है।

गिल ने दूसरा वनडे रद्द किए जाने के बाद संवाददाताओं से कहा,‘‘ यह फैसला (इंडोर स्टेडियम में खेलने का) बोर्ड को करना है। एक खिलाड़ी और प्रशंसक होने के नाते बारिश के कारण इतने अधिक मैचों के प्रभावित होने से परेशानी होती है। मैं इस बारे में क्या कह सकता हूं क्योंकि यह बड़ा फैसला है। निश्चित तौर पर बंद छत वाले स्टेडियम अच्छा विकल्प होंगे।’’

भारत और न्यूजीलैंड के बीच दूसरे वनडे में बारिश के पहले व्यवधान के बाद ओवरों की संख्या को घटाकर 29 कर दिया गया था लेकिन मैच में केवल 12.5 ओवर का खेल ही हो पाया।

गिल ने कहा,‘‘यह बेहद परेशान करने वाला होता है क्योंकि आपको पता नहीं होता है कितने ओवर का खेल होगा और ऐसे में आप उसके अनुसार रणनीति नहीं बना सकते।’’

भारत के एकदिवसीय बल्लेबाजी ढांचे में बदलाव पर विचार किया जा रहा है लेकिन पंजाब के इस युवा खिलाड़ी का मानना है कि हर दिन 400 या 450 रन का स्कोर नहीं बन सकता।

गिल ने कहा, ‘‘साल में एक या दो मैचों में ही 400 से 450 रन का स्कोर बन सकता है। अधिकतर टीम का लक्ष्य 300 रन के आसपास स्कोर करना होता है। इसके अलावा यह परिस्थितियों पर भी निर्भर करता है कि आप पहले बल्लेबाजी कर रहे हैं या लक्ष्य का पीछा कर रहे हैं। लेकिन 400 से अधिक का स्कोर हर मैच में नहीं बनाया जा सकता है।’’

गिल अगले साल होने वाले विश्वकप के लिए 15 सदस्यीय टीम में जगह बनाने के प्रबल दावेदार हैं लेकिन उन्होंने कहा कि अभी वह उस बारे में नहीं सोच रहे हैं।

उन्होंने कहा,‘‘मैं अभी इतनी दूर के बारे में नहीं सोच रहा हूं और मुझे जो भी अवसर मिल रहे हैं उनका पूरा फायदा उठाना चाहता हूं। मैं टीम के लिए बड़ी पारियां खेलना चाहता हूं।’’

भाषा पंत नमिता

नमिता

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)